जब लिव-इन में रह रहे प्रेमी ने की शादी की जि‍द पूरी नहीं हुई, तो कर दिया ये घिनौना काम | Hindxpress

जब लिव-इन में रह रहे प्रेमी ने की शादी की जि‍द पूरी नहीं हुई, तो कर दिया ये घिनौना काम

हरियाणा रोडवेज के लिए प्रति किलोमीटर दर से बसें चलवाने की योजना में लम्बी अदालती लडाई के आसार
लुधियाना में लोहे की फैक्ट्री में धमाका, 1 मजदूर की मौत, 11 घायल

फ़तेहाबाद(जितेंदर मोंगा) । फ़तेहाबाद के रतिया शहर में एक व्यक्ति पर लिव-इन-रिलेशनशिप में रह रही अपनी प्रेमिका का रेप के उसके बाल काटने और शरीर को चाकुओं से छलनी करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोपों के अनुसार आरोपी शख्स अपनी प्रेमिका से शादी की जिद कर रहा था और प्रेमिका ने शादी के लिए शर्त रखी थी की वह (आरोपी प्रेमी) पहले अपनी पत्नी को कानूनी तलाक दे, शादी उसके बाद करेगी। पीडिता को गंभीर हालत के रतिया शहर से अग्रोहा मेडिकल रेफर कर दिया गया है।

पूरी घटना की जानकारी देते हुए डीएसपी धर्मबीर पूनिया ने बताया कि मामले में आरोपी प्रेमी रवि और उसके परिजनों के खिलाफ रेप, मारपीट और जान से मारने की धमकी सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। डीएसपी ने बताया की पुलिस शिकायत में पीडिता ने आरोप लगाया कि वह पंजाब के मानसा की रहने वाली है और शदीशुदा है। अपने पति से अनबन के चलते वह अलग रहती है और करीब 7-8 महीने पहले ही वह पंजाब के मानसा के ही रहने वाले रवि नाम के शख्स के संपर्क में आई। रवि भी शादीशुदा है और अपनी पत्नी से अलग रहता है। रवि से संपर्क में आने के बाद दोनों फ़तेहाबाद के रतिया शहर में आकर लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने लगे।

डीएसपी ने बताया कि 6 सितम्बर को रवि ने पीडिता से शादी करने के लिए जिद की मना करने पर आरोपी ने पीडिता का रेप किया और उसके बाद अपने परिजनों की मदद से उसे (पीडिता) कमरे में बंद कर कैंची से बाल काट दिए, और शरीर पर चाकुओं से कई वार कर पूरा शरीर छलनी कर दिया। पीडिता की बहन ने बताया कि किसी तरह मौका पाकर उसके पास घायल बहन का फोन आया और फिर वह अपनी बहन को अस्पताल लेकर पहुंची और पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई गई।

डीएसपी ने बताया कि मामले में आरोपी रवि, रवि की मां सीता, भाई सागर और बुआ के लड़के अनिल के खिलाफ रेप, मारपीट, जान से मारने की धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। पीडिता के बयान दर्ज कर लिए गए हैं और आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0