Breaking News
Home / Crime / देखें कैसे – 25 करोड़ की लागत से बने फ्लैट्स को बेख़ौफ़ चोरों ने बना दिया खंडहर

देखें कैसे – 25 करोड़ की लागत से बने फ्लैट्स को बेख़ौफ़ चोरों ने बना दिया खंडहर

झज्जर (सुमित कुमार) । चोरी की सीसीटीवी में कैद वारदातें तो आपने बहुत देखी होंगी। लेकिन आज हम आपको कैमरे में कैद चोरों को सीधा दिखाने जा रहे है। चोरी कहां हो रही है ये भी बातएंगे, लेकिन उससे पहले ये जान लीजिए कि चोरी दिनदहाड़े होती है और ऑटो में डालकर चोरी का सामान कबाड़ी का बेचा जाता है। मामला बहादुरगढ़ का है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के 696 फ्लैटों में ये चोरी हर रोज हो रही है। चोर बड़े बड़े हथौड़े लेकर आते हैं और फ्लैटों की ग्रिल, जंगले , चौखट और दरवाजे उतार कर ले जाते हैं।

Advertisements

जवाहरलाल नेहरू शहरी मिशन कार्यक्रम के तहत हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने 25 करोड़ की लागत से ये फ्लैट तैयार करवाए थे जो अब खंडहर बन गए हैं और फ्लैटों का ज्यादातर सामान चोरी हो गया है जो बचा है वो हर रोज चोरी हो रहा है।
लापरवाह सरकार कहें या लापरवाह प्रशासन कहें। लापरवाही ऐसी कि हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की करोड़ों की प्रापर्टी खंडहर हो गई है। खंडहर से भी हर सामान चोरी हो गया है। जो बचा है वो अब भी दिनदहाड़े चोरी हो रहा है। चोर हमारे कैमरे में कैद हो चुके हैं। बड़े बड़े हथौड़े लेकर चोर दिनदहाड़े सरेआम फ्लैटों की ग्रिल को तोड़ रहे हैं। फ्लैटों के दरवाजे, खिड़की और चौखट को ये पहले ही तोड़कर, चुराकर बेच चुके हैं। आप भी देखिए इन चोरों की करतूत को।

ये विडिया है बहादुरगढ़ का। बहादुरगढ़ में सैनिक नगर के साथ लगते सैक्टर 5 में जवाहरलाल नेहरू शहरी मिशन के तहत गरीबों को बेहतर आवासीय सुविधा मुहैया करवाने के लिए 25 करोड़ की लागत से 696 फलैट बनवाए गए थे। फ्लैट तैयार होने के पांच साल बाद भी इन्हे अलॉट नही किया गया। जिसका फायदा चोरों ने उठाया। विभाग की अनदेखी के चलते फ्लैटो के पास बड़ी बड़ी झाडि़यां उग गई। इसी का फायदा उठाकर चोरों ने चोरी शुरू की और लगभग साल भर में ही इन फ्लैटों के दरवाजे , खिड़की, जंगले, चौखट और लोहे की ग्रिल तोड़कर चुरा ली और आसपास के ही कबाडि़यों को बेच भी दी। चोरों ने आवासीय कॉलोनी में लगे ट्रांसफार्मर , टायॅलेट सीट और बिजली की स्विच तक को तोड़ दिया या फिर बेच दिया है। जवाहरलाल नेहरू शहरी मिशन बाद में राजीव गांधी आवास योजना और अब प्रधानमंत्री आवास योजना में बदल चुका है।

Advertisements

दिनदहाड़े हो रही चोरी की सूचना पुलिस और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को भी है। आसपास के लोगों का कहना है कि हर रोज चोरी हो रही है । कई बार चोरों को रोकने की कोशिश की तो रोकने वालों को चोरों ने डरा दिया और अब चोरों के डर से कोई उन्हे रोकता और टोकता नही है।

सरकारी धन की हो रही बेकद्री के बारे में जब हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के एक्सईएन संदीप दहिया से बात की गई तो उन्होंने बताया कि इन फ्लैटों के निर्माण का टेंडर हुडा विभाग ने किया था और अब तक इन फ्लैटों को ठेकेदार से विभाग ने हैंडओवर नही लिया है। अब तक प्रशासन की तरफ से अलॉटियों की लिस्ट भी नही मिली है। ऐेसें में रखरखाव का जिम्मा ठेकेदार का ही है।

सरकार, विभाग और ठेकेदार की लापरवाही से करोड़ों की लागत से बने इन फ्लैटों से अब तक करोड़ों का सामान चोरी हो चुका है। ऐसे में जब इनके अलॉटमैंट की बारी आएगी तब फिर से इन फ्लैटों को रिपेयर करवाया जाएगा और फिर से उस रिपेयर वर्क पर करोड़ों खर्च किए जाएंगे। वो करोड़ों भी सरकार के खाते से ही निकलने वाले हैं। ऐसे में जरूरी है इस बेकद्री के जिम्मेदार लोगों की पहचान करने की और उनकी जिम्मेदारी फिक्स कर उन पर सख्त कार्यवाही की ताकि सरकारी धन की सरेआम लूट बंद हो सके।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

CHANDIGARH-UNIVERSITY

रिसर्च के क्षेत्र में सबसे अधिक 336 पेटेंट दर्ज करवाकर, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी देशभर में सबसे अव्वल

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी घड़ूंआ के स्टूडेंट्स ने लगातार रिसर्च कर कई क्षेत्रों में खोज की है। …

error: Content is protected !!