Home / Haryana / रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग पर सरकार की तैयारियों को लेकर दिया बयान

रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग पर सरकार की तैयारियों को लेकर दिया बयान

पंचकूला (उमंग श्योराण ) : AICC प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग पर सरकार की तैयारियों को लेकर दिया बयान। रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कोरोना वायरस से जंग में हरियाणा के सजग प्रहरी व जिम्मेदार विपक्ष के तौर पर खट्टर सरकार को जनहित में हम प्रतिदिन सुझाव देंगे।

Advertisements

ऐसा इसलिए आवश्यक है कि 2.5 करोड़ हरियाणवियों का जीवन सुरक्षित व सुचारू रहे तथा हरियाणा के लोग महामारी की चपेट में आने से बचें भी व इस मुश्किल घड़ी में महामारी का कोई व्यक्ति या वर्ग नाजायज फायदा न उठा पाए। इसके साथ साथ कोरोना से जंग लड़ने वाले हर व्यक्ति व वर्ग का सुरक्षा चक्र और मजबूत हो। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से लड़ने की जंग में हरियाणा पुलिस के जांबाज सिपाही व अधिकारी तथा पूरे हरियाणा के शहरों व गांव के सफाईकर्मी कंधे से कंधा मिलाकर निर्णायक भूमिका निभा रहे हैं। स्वास्थ्यकर्मियों के साथ साथ पुलिस के कर्मचारियों व सफाई कर्मचारियों को भी कोरोना संक्रमण का खतरा है। यह खतरा उनके परिवारों को भी है।

#KaiseBeetRaheDin वीडियो पोस्ट कर बताएं कैसे बीत रहे हैं दिन आपके लॉकडाउन के बीच। चुनिंदा वीडियो करेंगे हम पोस्ट
हमारा सुझाव है कि खट्टर सरकार फौरन पुलिस के कर्मचारियों/अधिकारियों तथा सफाई कर्मचारियों को एन-95 मास्क व ग्लव्स उपलब्ध करवाए ताकि वो व उनके परिवार संक्रमण से बच सकें।

Advertisements

हमारा दूसरा सुझाव है कि अगले 3 महीने तक यानि 1 अप्रैल से 30 जून तक पुलिस के कर्मचारियों व अधिकारियों तथा सफाई कर्मचारियों को एक विशेष फाईनेंशल पैकेज के तहत 50 प्रतिशत अधिक तनख्वाह बोनस के तौर पर दी जाए।

हरियाणा के लगभग 10,000 ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को 3 माह से वेतन नहीं दिया गया। ये वाल्मीकी समाज या अन्य अनुसूचित जातियों से हैं। इन्हें फौरन 3 महीने का वेतन व अगले तीन महीने तक 50 प्रतिशत अधिक तनख्वाह दी जाए।

 

24 मार्च को लॉकडाऊन के दिन ही हमने खट्टर सरकार को खाद्य पदार्थों व सब्जियों इत्यादि की कालाबाजारी के प्रति आगाह किया था। सच्चाई यह है कि खट्टर सरकार आवश्यक वस्तुओं के मूल्यों को नियंत्रित करने में तथा जरूरत की वस्तुओं की होम डिलीवरी में पूरी तरह विफल साबित हुई है। कालाबाजारी व जरूरत की वस्तुओं की आसमान छूती कीमतों का आंकलन हर रोज अखबार की सुर्खियां हैं, पर खट्टर सरकार को मालूम नहीं चल पा रहा।

 

लगभग एक हफ्ते में महंगी हुई रोजमर्रा की जरूरत की खाद्य पदार्थों व सब्जियों के मूल्यों से साफ है कि हरियाणा में चारों ओर जरूरी वस्तुओं की कीमतों में मुश्किल घड़ी का फायदा उठाकर खुलेआम अनाप शनाप बढ़ोत्तरी व कालाबाजारी हो रही है। पर खट्टर सरकार इस पर नियंत्रण करने में फेल साबित हुई है।

 

कांग्रेस की मांग के बाद लॉकडाऊन पीरियड में शराब के ठेके तो बंद हो गए, परंतु भाजपा-जजपा सरकार राशन उपलब्ध न करवाकर मिनटों में शराब की होम डिलीवरी जरूरत करवा रही है और वो भी औने-पौने दामों पर। एक तरफ राशन नहीं, खाने पीने की वस्तुएं कई गुना महंगी हो गईं और दूसरी तरफ शराब की चंद मिनटों में होम डिलीवरी।

 

हमारा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से अनुरोध है कि खाद्य वस्तुओं व सब्जियों के अनाप शनाप बढ़ते दामों पर नियंत्रण करें व शराब माफिया पर लगाम लगाएं। कोरोना से लड़ाई का समय मुनाफा कमाने का नहीं और न ही कालाबाजारियों तथा शराब माफिया को खुली छूट देने का। इन पर लगाम लगेगी तथा आम जनमानस की वस्तुएं सही दाम पर मिलेंगी, तभी कोरोना की महामारी से जंग मिलकर जीत पाएंगे।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

ramkumar kashyam

हलके की जनता की समस्याओं एवं शिकायतों को दूर करना,पहली प्राथमिकता- रामकुमार कश्यप

करनाल (पंकज कम्बोज) : इन्द्री के विधायक रामकुमार कश्यप ने सिंचाई विभाग के विश्राम गृह में जन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!