Breaking News
Home / Chandigarh / खेल विभाग की तैयारी :ग्रामीण स्तर पर बनेंगे यूथ क्लब, 50 फीसदी भागीदारी महिलाओं की रहेगी

खेल विभाग की तैयारी :ग्रामीण स्तर पर बनेंगे यूथ क्लब, 50 फीसदी भागीदारी महिलाओं की रहेगी

चंडीगढ़, 10 अक्तूबर- हरियाणा के खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर यूथ क्लबों का गठन किया जाएगा, जो सरकारी योजनाओं को कार्यान्वित करने के साथ-साथ सामाजिक गतिविधियों में अपना योगदान देंगे। यही नहीं युवाओं को लक्ष्य प्राप्ति में भी यूथ क्लब अहम भूमिका निभाएंगे। खेल विभाग की ओर से यूथ क्लब का मसौदा तैयार कर लिया गया है, जल्द ही गांवों में इनके गठन की प्रक्रिया शुरू होगी।

Advertisements

खेल राज्य मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि ग्रामीण आंचल में युवाओं को उनके लक्ष्य प्राप्ति और योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए यूथ क्लब अहम भूमिका निभाएंगे। यूथ क्लब के जरिए न केवल जन-जन तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचेगा बल्कि युवाओं के भविष्य को लेकर तैयार की गई योजनाओं का भी युवा सहजता के साथ लाभ उठा सकेंगे। खेल विभाग की यूथ क्लब के गठन में अहम हिस्सेदारी रहेगी। विभाग की ओर से यूथ क्लब के गठन की नियम व शर्तें निर्धारित की गई हैं, जिनके अंतर्गत ही यूथ क्लब के सदस्यों का चयन किया जाएगा।Also Read: -देखें :- जब सारथी बनी कुमारी शैलजा ने दिया राहुल गाँधी को झटका

उन्होंने कहा कि यूथ क्लब में महिलाओं की भागीदारी 50 फीसदी रहेगी, जिससे गांव की बेटियां व महिलाएं ज्यादा सशक्त होंगी। इसके साथ ही यूथ क्लब पूरी तरह गैर-राजनीतिक होगा, उसका संबंध खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग या फिर नेहरू युवा केंद्र की ओर से संचालित किए जाने वाले कार्यक्रमों के साथ रहेगा।

Advertisements

 

यह होंगे मानक

गांव में यूथ क्लब के सदस्य के लिए सबंधित गांव का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है। इसके लिए 15 से 29 वर्ष तक की आयु निर्धारित की गई है। क्लब में सभी धर्मों, जातियों व समुदाय के सदस्य बनाए जाएंगे। युवा पदाधिकारियों में 50 फीसदी प्रतिनिधित्व युवतियों का रहेगा। राष्ट्रीय, राज्य व जिला स्तर पर युवा पुरस्कार विजेताओं को प्राथमिकता दी जाएगी। युवा पदाधिकारियों के परिवार से कोई सदस्य तत्कालीन ग्रामीण पंचायत में प्रतिनिधि न हो। युवा प्रतिभागियों का कार्यकाल 2 वर्ष के लिए रहेगा।

 

यह होगा यूथ क्लब का कार्य

यूथ क्लब ग्रामीण स्तर पर सरकारी योजनाओं को कार्यान्वित करने में अपना सहयोग देगा। जिला प्रशासन व राज्य सरकार द्वारा चलाए जाने वाले अभियानों में यूथ क्लब की भागेदारी अनिवार्य होगी। यूथ क्लब की ओर से एक महीने में कम से कम दो सामाजिक गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। सभी यूथ क्लब राष्ट्रीय व राज्य की युवा नीति का अनुसरण करेंगे। यूथ क्लब मंडल स्तर पर एक महीने में, जिला स्तर पर तीन महीने में और राज्य स्तर पर एक महीने में एक बैठक का आयोजन करेंगे। इसमें संबंधित विभाग के अधिकारियों से लेकर मंत्री व मुख्यमंत्री की मौजूदगी रहेगी। यूथ क्लब युवाओं व अन्य सुझावों को विभाग और सरकार के सक्षम प्रस्तुत करेंगे ताकि नई योजनाओं को अमलीजामा पहनाया जा सके।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

CM MANOHAR

अब नहीं चलेगी निजी स्कूलों की मनमानी, हरियाणा सरकार ने 20 दिनों में बकाया फाइल निपटाने के दिये आदेश

चंडीगढ़, 8 अक्तूबर- हरियाणा सरकार ने राज्य के प्राइवेट स्कूलों को मान्यता, अनुमति व अनापत्ति …

error: Content is protected !!