Home / Haryana / 500 एकड़ में बनी प्लास्टिक के कबाड़ की मार्केट,हटाने के लिए दी गई 24 घंटे की मोहलत

500 एकड़ में बनी प्लास्टिक के कबाड़ की मार्केट,हटाने के लिए दी गई 24 घंटे की मोहलत

बहादुरगढ़ (सुमित कुमार)। देश की राजधानी दिल्ली से सटे बहादुरगढ़ में बसी अवैध पीवीसी मार्केट को हटाने के लिए एक बार फिर से कवायद शुरू कर दी गई है। बहादुरगढ़ नगर परिषद की टीम ने अवैध पीवीसी मार्केट को हटाने के लिए एक बार फिर से पीला पंजा चलाया। लॉकडाउन से पहले भी नगर परिषद की टीम ने करीब 500 एकड़ में बसी अवैध पीवीसी मार्केट को हटाने का प्रयास किया था। लेकिन कोरोनावायरस के चलते लगाए गए लॉकडाउन के कारण यह नहीं हट पाई थी। अब एक बार फिर से नगर परिषद के अधिकारी भारी पुलिस बल के साथ इस मार्केट को हटाने के लिए पहुंचे। तो उन्हें वहां के व्यवसायियों का विरोध भी झेलना पड़ा।

Advertisements

 

नगर परिषद के कर्मचारी पीवीसी मार्केट में पड़े सामान को जेसीबी मशीन की मदद से हटाने लगे और वहां पड़े सामान को ट्रैक्टर ट्रेनों की मदद से उठाने की कोशिश करने लगे। इसी दौरान यहां के व्यवसाई इकट्ठे होकर अधिकारियों के पास पहुंचे और स्वयं सामान हटाने की गुहार लगाई। व्यवसाइयों की ओर से नगर परिषद के अधिकारियों से मार्केट हटाने के लिए कुछ समय की भी मांग की गयी। जिसके बाद अधिकारियों की ओर से इस पूरी मार्केट को हटाने के लिए यहां के व्यवसायियों को 24 घंटे की मोहलत दी। मार्केट नहीं हटाने की सूरत में यहां के व्यवसायियों और जिन किसानों की जमीनों पर यह मार्केट बनी है उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात भी कही।

 

बता दें की पिछले 1 साल के अंदर की राजधानी दिल्ली की सीमा से सटे बहादुरगढ़ की उपजाऊ जमीन पर यह मार्केट बस गई । इस मार्केट में प्लास्टिक के कबाड़ की कटाई और छटाई की जाती है। जिससे प्लास्टिक के छोटे-छोटे कण हवा में घुल जाते हैं और काफी मात्रा में प्रदूषण फैलाते हैं। ईपीसीए के चेयरमैन भूरेलाल नेवी इस अवैध पीवीसी मार्केट को हटाने के आदेश जारी किए थे । जिसके बाद इस मार्केट को हटाने का काम किया जा रहा है।

Advertisements
Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

rohtak-gurnam-singh

अंबावता के प्रदेशाध्यक्ष का समर्थन मिलते ही गुरनाम सिंह चढूनी ने कर दिया बड़ा एलान – देखें

रोहतक (सनी ) : केंद्र सरकार के 3 कृषि अध्यादेशों के विरोध में 20 सितंबर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!