ऑस्ट्रेलिया हॉकी टीम के सामने दीवार बनीं हरियाणा की छोरी, ट्विटर पर ट्रेंड होने लगा #ChakDeIndia

0
448

भारतीय महिला हॉकी टीम ने सोमवार को टोक्यो ओलंपिक  (Tokyo Olympics 2020) में ऑस्ट्रेलिया को हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। टीम ने पहली बार ओलंपिक खेलों के सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करके इतिहास रचा, तीन बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को एक ही गोल से हराया। बता दें, महिला हॉकी टीम ने क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया पर 1-0 से जीत दर्ज करते हुए इतिहास रच दिया और इस जीत के साथ इतिहास में पहली बार टीम ने ओलंपिक के सेमीफाइनल में जगह बना ली है।

A goal that will go in the history books! ????

Watch Gurjit Kaur’s brilliant drag flick that led #IND to a 1-0 win over #AUS in an epic quarter-final ????#Tokyo2020 | #UnitedByEmotion | #StrongerTogether | #Hockey | #BestOfTokyopic.twitter.com/MkXqjprLxo

— #Tokyo2020 for India (@Tokyo2020hi) August 2, 2021

 

ऑस्ट्रेलिया को इस मैच में एक के बाद 7 पेनल्टी कॉर्नर मिल गए थे। जिन्होंने पहले पेनल्टी कार्नर से भारत के लिए कड़ी मेहनत की वह महिला खिलाड़ी गुरजीत कौर ही थीं। वहीं पूरे मैच के दौरान गोलकीपर सविता पुनिया (Savita Punia goalkeeper)का नाम पूरे स्टेडियम में गूंजता रहा। सविता पुनिया (Savita Punia)ने अपने ऑस्ट्रेलिया टीम के सभी 9 शॉट्स को बचाने में कामयाबी हासिल की। इसे दृश्य को देखकर “चक दे इंडिया” का दृश्य याद आ गया। सविता के लिए ट्विटर पर “The Wall” और #ChakDeIndia ट्रेंड होने लगा।

सांसद नवीन जिंदल ने लिखा, “सभी ने शानदार खेल, सविता अभूतपूर्व थी”

 

“भारतीय महिला हॉकी टीम की दीवार: सविता पुनिया,” भाजपा नेता वाई सत्य कुमार ने  ट्विटर पर लिखकर भारतीय महिला हॉकी टीम को बधाई दी.

 

 

 

गोलकीपर सविता पुनिया और उनकी टीम के खेल ने आज साल 2007 की फिल्म में, चक दे इंडिया की याद दिला थी, जिसमें शाहरुख खान ने भारतीय महिला हॉकी टीम के कोच की भूमिका निभाई।

बता दें कि सविता पूनिया सिरसा जिले की इकलौती ऐसी बेटी हैं, जिसे राष्ट्रपति द्वारा अर्जुन अवॉर्ड से नवाजा गया है। वहीं सविता पूनिया की मेहनत और लगन को देखते हुए महिला एंव बाल विकास निगम द्वारा पहली बार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के तहत जिले की ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया। सविता पूनिया के पिता ने अपनी बेटी और टीम इंडिया के प्रदर्शन से गदगद दिखाई दिए। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी के साथ पूरी भारतीय हॉकी टीम ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। जिसके लिए हमें खुशी है। उन्होंने उम्मीद जताई कि सेमीफाइनल में भारतीय महिला हॉकी टीम बेहतर प्रदर्शन करेगी। वहीं सविता की माता भी बेटी की इस उपलब्धि पर गदगद दिखीं। सविता पूनिया का माता ने ओलंपिक में मेडल की उम्मीद जताई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here