Home / Haryana / विधायक कृष्ण मिड्ढा ने मारा निर्माणाधीन अटल पार्क पर छापा

विधायक कृष्ण मिड्ढा ने मारा निर्माणाधीन अटल पार्क पर छापा

जींद(रोहताश भोला) : विधायक डॉ. कृष्ण मिढ़ा ने रविवार को सफीदों रोड पर बन रहे अटल पार्क का दौरा किया। जहां निर्माण में लग रही घटिया क्वालिटी की ईंटें व निर्माण सामग्री देख कर विधायक का पारा चढ़ गया। विधायक ने दो ईंटों को आपस में भिड़ा कर देखा, तो ईंटे टूट कर खील की तरह कई टुकड़ों में बिखर गई। निर्माण में प्रयोग की जा रही रेती व क्रेशर भी काफी घटिया क्वालिटी का मिला। जिसे देख कर मिढ़ा बोले कि यहां तो अंधेरगर्दी चल रही रही है। तुरंत उन्होंने डीसी को फोन कर सैंपल भरवाने के लिए अधिकारियों को भेजने के लिए कहा। जिसके कुछ देर बाद पीडब्ल्यूडी बीएंडआर के एसडीओ केएस चोपड़ा पहुंचे। लेकिन नगर परिषद का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा और दो घंटे तक विधायक मिढ़ा उनके आने का इंतजार करते रहे। इस दौरान विधायक ने ठेकेदार के प्रतिनिधि प्रदीप को भी फटकार लगाते हुए कहा कि ये साढ़े पांच करोड़ रुपये की परियोजना है। टेंडर के अनुसार जब उन्हें सरकार पूरा पैसा दे रही है, तो काम ढंग से होना चाहिए। अटल पार्क की घोषणा सीएम मनोहर लाल ने अपने पहले कार्यकाल में साल 2014 में की थी। लेकिन इस परियोजना पर काम इस साल सितंबर में शुरू हुआ। करीब साढ़े पांच करोड़ रुपये की लागत से नगर परिषद इसका निर्माण करा रही है।

Advertisements

पंजाब और हरियाणा समेत चंडीगढ़ में मौसम सर्द रहा

13 सितंबर को तत्कालीन हरियाणा वन विकास निगम के चेयरमैन जवाहर सैनी ने ही अटल पार्क का शिलान्यास किया था। अब बीजेपी के विधायक ने ही विकास कार्यों में अनियमिताएं बरते जाने की बात कह कर नगर परिषद की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर दिए हैं। उप चुनाव के बाद से ही विधायक मिढ़ा व जवाहर सैनी में रिश्ते अच्छे नहीं रहे हैं।

Advertisements

नकली पिस्तौल दिखा शोरूम से सोना चुराने वाले आरोपी गिरफ्तार

एक नंबर की लग रही ईंट, चाहे सैंपल भरवा लो जब विधायक जायजा लेने पहुंचे, तो मौके पर ठेकेदार नहीं था। वहां ठेकेदार का प्रतिनिधि था। विधायक ने निर्माण में घटिया सामग्री लगाने पर जवाब मांगा, तो उसने कहा कि सभी ईंटें बढ़िया क्वालिटी की एक नंबर की ईंटें हैं। चाहे तो वे सैंपल भरवा सकते हैं। नगर परिषद के अधिकारियों के बारे में पूछा, तो उसने बताया कि नगर परिषद अधिकारी रूटिन में यहां आते हैं और निर्माण संबंधी दिशा-निर्देश देते हैं। लेकिन निर्माण में किस क्वालिटी की सामग्री लग रही है, इसकी जांच नहीं करते।

 

जांच के लिए भेजे जाएंगे सैंपल यहां जो ईंटे रखी हुई हैं, पहली दृष्टि में तो देखने से घटिया क्वालिटी की लग रही हैं। बाकी जांच के बाद पता चल जाएगा। ईंटों व निर्माण सामग्री के सैंपल भर कर सील कर दिए हैं। जांच के लिए इन्हें लैब भेजा जाएगा। वहीं टेंडर के अनुसार निर्माण में कौन सी सामग्री का क्या स्टेंडर्ड होना चाहिए, वो टेंडर की फाइल देख कर पता चलेगा। के एस चोपड़ा, एसडीओ, पीडब्ल्यूडी बीएंडआर

 

सीएम के संज्ञान में लाएंगे मामला वे किसी शादी समारोह में जाने के लिए सफीदों रोड से गुजर रहे थे। पार्क में निर्माण कार्य चला देख कर वे यहां आ गए। यहां आकर देखा, तो ईंटें बहुत ही घटिया क्वालिटी की थी। ईंटों को चेक किया, तो थोड़े दबाव से ही ईंटे टूट गई। रेती व क्रेशर की क्वालिटी भी खराब है। वहीं नागरिक अस्पताल का भी दो साल पहले बना भवन जर्जर होने लगा है। शहर में पुलिस प्रशासन कमजोर है। ये सारी चीजें मुख्यमंत्री के संज्ञान में लाई जाएंगी।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

panipata

पानीपत में नहीं दिखा भारत बंद का असर,सुनिए क्या बोले किसान व् आढ़ती

पानीपत (प्रवीण भारद्वाज) : पानीपत में भी देश के साथ भारतीय किसान यूनियन ने किया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!