Home / Haryana / मेवात क्षेत्र में औलावृष्टि व भारी बारिश से नष्ट हुई फसलों पर भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक चौ0 ज़ाकिर हुसैन ने अफसोस जताया

मेवात क्षेत्र में औलावृष्टि व भारी बारिश से नष्ट हुई फसलों पर भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक चौ0 ज़ाकिर हुसैन ने अफसोस जताया

नूहँ/ मेवात(जुबेर खान) : बृहस्पतिवार को शाम को मेवात क्षेत्र में भारी बारिश के साथ कई दर्जन गाँवों में भारी औलावृष्टि हुई जिसके कारण मेवात क्षेत्र के कई दर्जन गाँवों की कई सौ एकड़ भूमि में खड़ी फसलें पूरी तरह से नष्ट हो गई हैं। नूंह जिले के नूंह, नगीना, फिरोजपुर झिरका, पुन्हाना आदि ब्लाॅकों के कई दर्जन गाँवों की फसलें औलावृष्टि से पूरी तरह नष्ट हो गई हैं। इन गाँवों के लोगों के चेहरों पर भारी मायूसी है। लोगों का कहना है कि इतने दिन से मेहनत कर अपने परिवार के पालन पोषण के लिए फसलों का इंतजार कर रहे थे लेकिन भारी औलावृष्टि ने सारी फसलें पूरी तरह से बर्बाद कर दी हैं। अब उन्हें चिंता है कि उनके परिवार का पालन-पोषण कैसे संभव होगा।

Advertisements

    कैंसर पीड़ितों के लिए सरकार ने दी बड़ी राहत, अब अटेंडेंट भी कर सकेगा मुफ्त यात्रा

भाजपा के दिगग्ज नेता व पूर्व विधायक चौ0 ज़ाकिर हुसैन ने मेवात क्षेत्र के कई दर्जन गाँवों में भारी बारिश व औलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों पर अफसोस जताते हुए कहा कि कुदरत के कहर के आगे किसी की नहीं चल सकती। कई दर्जन गाँवों में भारी औलावृष्टि के कारण किसानों की फसलें पूरी तरह से नष्ट हो गई हैं। नूँह जिले के कई दर्जन गाँवों में रविवार को भारी औलावृष्टि हुई है। लोग रात-दिन मेहनत कर अपनी फसलों को उगा रहे थे। लेकिन कुदरत के कहर ने बृहस्पतिवार को उन्हें पूरी तरह से नष्ट कर दिया। पूर्व विधायक चौ0 ज़ाकिर हुसैन ने जिला प्रशासन से नूंह जिले में नष्ट हई फसलों की विशेष गिरदावरी की माँग की है। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही माननीय मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल से मुलाकात कर किसानों को नष्ट हुई फसलों का मुआवजा देने की माँग को उनके समक्ष रखेंगे। उन्होंने सरकार से माँग की है कि औलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का शीघ्र पूर्ण मुआवजा दिया जाए, जिससे किसान अपने परिवार का पालन-पोषण कर सकें।

Advertisements

Smriti Irani ने Rahul Gandhi को घेरा, लेकिन Narendra Modi का ये वीडियो भूल गई

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

chandermohan

पूर्व डिप्टी CM चंद्रमोहन ने कहा- यह पिपली नहीं, Panchkula है; किसान को हाथ भी लगा तो बाजू काट देंगे

पंचकूला (उमंग श्योराण)। केंद्र सरकार के कृषि अध्यादेश के खिलाफ विरोध बढ़ता ही जा रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!