Breaking News
Home / Haryana / जीन्द/ शव की नहीं हुई कोई शिनाख्त तो पुलिस ने लगाया ठिकाने

जीन्द/ शव की नहीं हुई कोई शिनाख्त तो पुलिस ने लगाया ठिकाने

जींद (रोहताश भोला)। मामला जीन्द के खापड़ गांव से जुड़ा है। यहां सुरेश नाम का व्यक्ति 7 जुलाई को गांव की ही माईनर पर नहा रहा था। उसके बाद इस व्यक्ति का कोई अता पता नहीं चला। अगले दिन गांव से काफी दूर इसी माईनर में ग्रामीणों को एक शव नजर आया। सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची। शव को बाहर निकाला गया। यहां काफी देर तक शव की कोई शिनाख्त नहीं हुई।

Advertisements

अगले दिन सुरेश के परिजनों को सूचना मिली की नजदीक के गांव में माईनर में एक शव मिला है। ये लोग शिनाख्त के लिए वहां पहुंचे। यहां प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि उस शव को तो पुलिस वाले ले गए है। परिजन पुलिस थाने पहुंचे लेकिन यहां पुलिस कर्मियों ने पहले दिन मिले शव के बारे में कोई जानकारी नहीं दी। सारा दिन परिजन पुलिस थाने के चक्कर काटते रहे। उसी दिन पुलिस की तरफ से यह जवाब आया कि यह शव दूसरे जिले में बड़ी नहर में मिला है। परिजन मौके पर पहुंचे। यहां जो शव मिला वह सुरेश का ही था। सुरेश के परिजनों का कहना है कि जब यह शव एक दिन पहले छोटी नहर में मिल चूका था और पुलिस इस शव को लेकर थाने के लिए रवाना हो चुकी थी तो फिर यह शव बड़ी नहर में कैसे पहुंचा।

सुरेश के परिजनों ने इस मामले में जीन्द के एसपी से जांच की मांग की जिस पर कार्रवाई करते हुए जीन्द के एसपी ने 5 पुलिस कर्मियों को तुरंत प्रभाव से सस्पैंड कर दिया है जबकि एक को डिसमिस कर दिया है।

डीएसपी पुष्पा खत्री का कहना है कि शव मामले में लापरवाही करने वाले 5 पुलिस कर्मियों इएसआई धर्मबीर, एएसआई जयबीर, एचसी मेनपाल, एचसी राजेश कुमार, इएचसी राजेश कुमार को एसएसपी अश्विन शैणवी ने सस्पेंड व एसपीओ रमेश को डिसमिस कर दिया है। इस पूरे मामले की जांच डीएसपी जगत सिंह नरवाना को सौंपी गई है।

Advertisements

About Hindxpress News

Check Also

हरियाणा के गठबंधन मंत्रिमंडल के पहले विस्तार के बाद सामने आने लगी जजपा और निर्दलीय विधायकों की नाराजगी

चंडीगढ,16नवम्बर। हरियाणा में पिछले 27 अक्टूबर को सत्तारूढ हुए भाजपा-जजपा मंत्रिमंडल के पहले विस्तार के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons