Home / Chandigarh / कोई खाना खिला रहा तो कोई दे रहा है राशन – देखें वीडियो

कोई खाना खिला रहा तो कोई दे रहा है राशन – देखें वीडियो

चंडीगढ़ (अजीत झा) : देश भर में कोरोना के चलते जहां लॉक डाउन है और लोग घरों में ही इस घातक बीमारी से बचने के लिए बैठे हुए हैं , वही अप्रवासी श्रमिको ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है लाखों की संख्या में अलग-अलग शहरों से यह लोग अपने गांव की तरफ पैदल रवाना हो रहे हैं । हालांकि इस खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार की तरफ से सभी राज्यों को आदेश दिए गए हैं कि इन लोगों के रुकने और खाने पीने की व्यवस्था की जाए ।

Advertisements

 

जेब मे पैसे और घरों में खाने के पैसे न होने चलते प्रवासी प्रवासी श्रमिक घरों की तरफ पलायन करने लगे है जिन्हें रोकने व खाने पीने के उचित इंतजाम के आदेश चंडीगढ़ प्रशासन को भी दिए गए है । चंडीगढ़ के पुलिस इंस्पेक्टर रंजीत सिंह ने चंडीगढ़ से निकलने वाले सैकड़ो श्रमिको की तरफ से मदद का हाथ बढ़ाते हुए अपनी तरफ से रसद की पूरी सामग्री उन्हें मुहैया करवाई । रंजीत सिंह ने अपने खर्चे से इन लोगो के लिए आटा , दाल , चावल , तेल और दूसरे जरूरत के सामानों के साथ साथ सब्जियँ भी मुफ्त में बांटी । इसके इलावा इन लोगो को पलायन न करने को लेकर समझाया और रुकने की भी व्यवस्था करवाई । चंडीगढ़ पुलिस के इंस्पेक्टर रंजीत सिंह ने सभी को विश्वाश दिलाया कि उन्हें खाने पीने की कमी नही आइडी जाएगी । इस दौरान चंडीगढ़ पुलिस ने इन लोगो के बीच सोशल डिस्टेनसिंग को भी लेकर जरूरी एतियात बरतने की हिदायत दी ।

 

कोरोना वायरस के कारण यूटी में लगे कर्फ्यू के चलते घरों में कैद हुए लोगों और झुग्गियों में रहने वालों की लोग खुलकर मदद कर रहे हैं। आम लोगों के साथ-साथ पुलिस, धार्मिक संगठनों समेेत अन्य संस्थाओं से जुड़े लोग जरूरतमंदों का पेट भर रहे हैं। लोग घर-घर पहुंच-पहुंच कर जरूरतमंदों तक खाना पहुंचा रहे हैं, वहीं राशन भी बांटा जा रहा है।

Advertisements

 

शहर में रोजगार नहीं होने और घर पर खाने-पीने की किल्लत के चलते पलायन की तैयारी में बैठे लोगों के घरों में पुलिस ने राशन पहुंचाया। क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर रंजीत सिंह की अगुवाई में एक टीम ने मनीमाजरा समेत अन्य जगहों पर दालें सब्जियां, आटा तेल और मसाले बांटे। पुलिस ने राशन के लिए लोगों को आईडेंटिफाई किया गया। पुलिस ने करीब 500 लोगों को राशन बांटा। पुलिस की ओर से सोमवार दिन में की गई एक्सरसाइज के पीछे मकसद सिर्फ इतना था कि लोग चंडीगढ़ से पलायन ना करें क्योंकि ऐसा करने पर यह बीमारी वह या तो अपने साथ लेकर जाएं या वहां जाकर स्वस्थ होने के बावजूद बीमार हो सकते हैं। पुलिस ने लोगों को आश्वासन दिया कि वह चंडीगढ़ में ही रहंे जब तक कर्फ्यू की स्थिति खत्म नहीं हो जाती तब तक उनके घरों में पुलिस ही राशन पहुंचाएगी।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

punjab-cm-amrinder-singh

कृषि अध्यादेश मामला : किसानों को CM अमरिंदर की दो टूक, कहा – विरोध करना है तो दिल्ली जाकर करें, हम किसानों के साथ है

चंडीगढ़। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में पंजाब कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल वीपी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!