Home / Uttrapradesh -Bihar / जन्म शताब्दी पर वृक्षारोपण कर याद किए गए हेमवती नंदन बहुगुणा

जन्म शताब्दी पर वृक्षारोपण कर याद किए गए हेमवती नंदन बहुगुणा

प्रयागराज (रविंदर कुमार ) : आज देश स्वर्गीय हेमवती नंदन बहुगुणा का जन्म शताब्दी समारोह मना रहा है। वे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। उन्होंने जीवन पर्यंत स्वराज के उद्देश्यों को अपने व्यक्तित्व एवं राजनीतिक प्रयासों में बरकरार रखा।

Advertisements

 

शनिवार को प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानी व पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय हेमवती नंदन बहुगुणा को 101वी जन्मशताब्दी पर भाजपा यमुनापार जिलाध्यक्ष विभव नाथ भारती भाजपा कार्यकर्ता व सभी मण्डल अध्यक्षो ने सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए जारी , मैदा , सीध टिकट,तेलघना, समेत अन्य जगह वृक्षारोपण किया, और उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित कर याद किया गया जिलाध्यक्ष विभव नाथ भारती ने शनिवार को कहा कि देश स्वर्गीय हेमवती नंदन बहुगुणा का जन्म शताब्दी समारोह मनाया गया ।

PRAYAGRAJ HINDXPRESS NEWS 25042020

 

वे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। उन्होंने जीवन पर्यंत स्वराज के उद्देश्यों को अपने व्यक्तित्व एवं राजनीतिक प्रयासों में बरकरार रखा वह अपने नैतिक मूल्यों, सिद्धांतों एवं आदर्शों पर हमेशा अडिग रहे। उनके विचार हम सभी को आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं और देते रहेंगे मुख्य रूप जिलाध्यक्ष विभव नाथ भारती, जिलाउपाध्यक्ष जय सिंह पटेल , मनोज गुप्ता ,जिला कार्यालय मंत्री ,प्रवीण सिंह पटेल ,कार्यकारिणी सदस्य ,ब्यापारी नेता बबलू केशरवानी,राजाराम कौशल मनोज अग्रहरि , अन्य लोग उपस्थित रहे

 

‘हर रोग का इलाज था’
सांप्रदायिक सद्भाव, जाति एवं वर्ग संघर्ष की उन्हें सूक्ष्म परख थी। देश के हित में इन सभी के बीच सामंजस्य कैसे बनाए रखें, इस विषय पर उनकी प्रभावशाली एवं स्पष्ट सोच थी। यह कहना है स्वर्गीय हेमवती नंदन बहुगुणा के निकटस्थ सहयोगी योगेंद्र खंडूड़ी का। उन्होंने कहा कि मैं कह सकता हूं कि वे ऐसे डॉक्टर थे जिनके पास हर रोग का इलाज था। उनके जीवन पर गांधी, सुभाष और नेहरू के व्यक्तित्व व विचारधारा का गहरा प्रभाव था।

1942 में भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ प्रयागराज तत्कालीन इलाहाबाद में छात्र एवं युवाओं को लेकर बहुत बड़ा आंदोलन किया। इस आंदोलन में छात्र एवं युवा खुलकर अंग्रेजों के खिलाफ सड़कों पर उतर आए। ब्रिटिश सरकार ने उन पर पांच हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। उनके गिरफ्तार होने पर उन्हें कई साल दिल्ली व उत्तर प्रदेश के जेलों में रखा गया।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

balia-news

UP: बलिया में ‘कस्टडी में टॉर्चर’ की घटना को लेकर स्थानीय लोगों ने पुलिस पर किया पथराव

बलिया (संजय कुमार तिवारी) । बलिया जनपद के रसड़ा काेतवाली थाना क्षेत्र के दक्षिणी चाैकी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!