ऐतिहासिक गौरव गाथा सहित प्रदेश की प्रगति का झरोखा है डिजिटल प्रदर्शनी : डीसी

0
100
azadi ka mahotsav

झज्जर (सुमित कुमार)। डीसी श्याम लाल पूनिया ने कहा कि युवा शक्ति को अपने गौरवमय इतिहास का ज्ञान करवाने में डिजिटल प्रदर्शनी पथ प्रदर्शक के रूप में है। जिलावासी इस प्रदर्शनी के माध्यम से हरियाणा का स्वतंत्रता संग्राम में योगदान सहित विकासात्मक जानकारी हासिल कर सकेंगे। डीसी पूनिया रविवार को झज्जर के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सभागार में सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग हरियाणा द्वारा आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर आजादी अमृत महोत्सव के तहत लगाई गई डिजिटल प्रदर्शनी का शुभारंभ कर रहे थे।

 

डीसी ने कहा कि हरियाणा का इतिहास और हरियाणा की प्रगति के अहम झरोखों को देखने का एक सुनहरी अवसर डिजिटल प्रदर्शनी में है। इस प्रदर्शनी में भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान से सम्बन्धित इतिहास को जाने का अवसर भी मिला है। इस प्रकार की प्रदर्शनी का लगातार आयोजन किया जाना जरुरी है, क्योंकि युवा पीढ़ी को प्रदेश के इतिहास को जानने का अवसर मिलता है। डीसी श्याम लाल पूनिया ने कहा कि भारत की आजादी के 75वें अमृत महोत्सव को लेकर भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान को दर्शाती प्रदर्शनी एक प्रेरणादायक माध्यम बन रही है। डीसी श्याम लाल पूनिया व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव एवं सीजेएम अंकिता शर्मा, सक्षम के जिला नोडल अधिकारी डॉ.सुदर्शन पूनिया सहित विद्यार्थियों व शहरवासियों ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस प्रदर्शनी में हरियाणा का स्वतंत्रता संग्राम में योगदान को अभिलेखों व तस्वीरों के माध्यम से दिखाने का प्रयास किया गया है। इतना ही नहीं प्रदर्शनी में हरियाणा के विकास की तस्वीर को भी दिखाया गया है।

इस प्रदर्शनी से लोगों को हरियाणा के सुनहरी इतिहास को देखने का मौका मिल रहा है। डीसी श्री पूनिया ने कहा कि सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग हरियाणा की तरफ से लगाए गए पैनल पर भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है। इस प्रदर्शनी से हरियाणा के इतिहास और 1966 से लेकर 2021 तक हरियाणा प्रदेश द्वारा शिक्षा, लोक निर्माण विभाग, पर्यटन, कृषि, उद्योग सहित अन्य क्षेत्रों में किए गए विकास को आंकड़ों सहित दर्शाया गया है। यह प्रदर्शनी आमजन के लिए हरियाणा के इतिहास को जानने का एक सशक्त माध्यम बन रही है। यह प्रदर्शनी अपने आप में एक ज्ञानवर्धक मंच साबित हो रही है।

 

डीएलएसए सचिव अंकिता शर्मा ने कहा कि जन सम्पर्क विभाग की प्रदर्शनी से युवा पीढ़ी को स्वतंत्रता संग्राम के बारे में जानने का अवसर मिला। उन्होंने कहा कि इस प्रदर्शनी में हरियाणा विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से आमजन के लिए प्रदत्त सेवाओं का भी उल्लेख किया गया है। शहर के आम नागरिकों के साथ-साथ विभागीय कर्मचारी और अधिकारियों ने बारीकी से अवलोकन किया। सभी लोगों को हरियाणा के इतिहास को जानने का अवसर मिला है। डीसी सहित अन्य अतिथिगण का स्वागत करते हुए कहा कि सूचना जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डा. अमित अग्रवाल के आदेशानुसार प्रदेश के प्रत्येक जिला मुख्यालय में भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हरियाणा के योगदान को जन जन पहुंचाने के लिए प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है। इस प्रदर्शनी में विकासात्मक स्वरूप को दर्शाते पैनल स्थापित किए गए हैं।

 

इस प्रदर्शनी के जरिए हरियाणा के स्वतंत्रता संग्राम में योगदान के बारे में अनोखी जानकारी मिली है। इस प्रदर्शनी में झज्जर के अंतिम नवाब अब्दुर्रहमान खां सहित नेता जी सुभाष चंद्र बोस के योगदान, भिवानी का इतिहास, राजा राव तुला राम को योगदान, पलवल में महात्मा गांधी की गिरफ्तारी सहित अन्य एतिहासिक पहलुओं को तस्वीरों के माध्यम से देखने का अवसर मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here