Home / Haryana / हरियाणा सरकार ने लॉन्च की महिला एवं किशोरी सम्मान योजना, बच्चों और महिलाओं को मिलेगा लाभ

हरियाणा सरकार ने लॉन्च की महिला एवं किशोरी सम्मान योजना, बच्चों और महिलाओं को मिलेगा लाभ

चंडीगढ़, 5 अगस्त- हरियाणा सरकार द्वारा महिलाओं और बच्चों के सर्वांगीण विकास पर विशेष बल देने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज ‘मुख्यमंत्री दूध उपहार’ योजना और ‘महिला एवं किशोरी सम्मान योजना’ का शुभारंभ किया।

Advertisements

मुख्यमंत्री ने सभी उपायुक्तों से कहा कि वे मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना को फ्लैगशिप कार्यक्रमों में शामिल करें और संबंधित जिलों में महिलाओं और बच्चों में एनीमिया और कुपोषण की समस्या को दूर करने के लिए अथक प्रयास करें।

‘मुख्यमंत्री दूध उपहार’ योजना के तहत तीन बच्चों और दो महिलाओं सहित पाँच लाभार्थियों को स्किम्ड मिल्क पाउडर के पैकेट वितरित किए। इसके अलावा, उन्होंने ‘महिला एवं किशोरी सम्मान योजना’ के लाभार्थियों को मुफ्त सैनिटरी नैपकिन के पैकेट भी वितरित किए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े इस कार्यक्रम के दौरान राज्य के सभी जिलों में इन दोनों योजनाओं के तहत लाभार्थियों को स्किम्ड मिल्क पाउडर और सैनिटरी नैपकिन के पैकेट वितरित किए गए।

Advertisements

मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना के तहत 1 से 6 वर्ष तक के बच्चों तथा गर्भवती व दूध पिलाने वाली माताओं को फोर्टिफाइड सुगंधित स्किम्ड मिल्क पाउडर दिया जाएगा। ‘महिला एवं किशोरी सम्मान योजना’ के तहत 11 लाख 24 हज़ार 871 बीपीएल परिवारों की 10-45 वर्ष तक की किशोरियों व महिलाओं को मुफ्त सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध करवाए जाएंगे।

कुपोषण और एनीमिया की समस्या पर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में नूंह जैसे कुछ जिले हैं जहाँ महिलाओं और बच्चों में एनीमिया की समस्या अपेक्षाकृत अधिक है। उन्होंने उपायुक्तों को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने जिलों में ‘मुख्यमंत्री दूध उपहार’ योजना का प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित करें। इस योजना के तहत वितरित किए जाने वाला फोर्टिफाइड सुगंधित स्किम्ड मिल्क पाउडर कुपोषण को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। इस योजना के अंतर्गत आँगनवाड़ी केन्द्रों में 1 से 6 वर्ष तक के बच्चों तथा गर्भवती व दूध पिलाने वाली माताओं को सप्ताह में 6 दिन 200 मिलीलीटर प्रतिदिन सुगंधित स्किम्ड मिल्क दिया जायेगा। यह दूध अन्य पौष्टिक तत्वों जैसे प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, बी-12 के साथ-साथ विटामिन-ए और डी से युक्त होगा, जो शरीर में सूक्ष्म तत्वों व विटामिन की पूर्ति करेगा। यह दूध छ: प्रकार के स्वाद में होगा।

उन्होंने कहा कि ‘महिला एवं किशोरी सम्मान योजना’ के तहत लगभग 22.50 लाख महिलाओं और किशोरियों को एक साल तक हर महीने मुफ्त सैनिटरी नैपकिन का एक पैकेट दिया जाएगा, जिसमें 6 नैपकिन होंगे। इसके अलावा, शिक्षा विभाग ने भी एक योजना तैयार की है जिसके तहत 6.50 लाख छात्राओं को हर महीने छ: सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध कराए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि कभी-कभी लोग अपनी समस्याओं को बताने में झिझक महसूस करते हैं, लेकिन यह सरकार का कत्र्तव्य है कि वह निरंतर आमजन से संपर्क करे और उनके लिए आवश्यक व्यवस्था करे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार के अलावा, महिला एवं बाल विकास के क्षेत्र में कार्य करने वाले अन्य सरकारी और गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) भी जमीनी स्तर पर इन योजनाओं के प्रभावी कार्यान्वयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं और इस योजना के तहत लाभार्थियों को अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार 4-एस यानी शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा और स्वावलंबन पर ध्यान केंद्रित करते हुए काम कर रही है और आज इसमें एक और एस यानी स्वाभिमान को भी शामिल किया गया है, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि लोग आत्मसम्मान के साथ रहें। इसके लिए कल ही उन्होंने पंचकूला से परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) का वितरण शुरू किया है, जिसके तहत लोगों को सरकारी कार्यालयों में आने की आवश्यकता नहीं होगी, बल्कि सरकार उन्हें विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं और कार्यक्रमों का लाभ प्रदान करने के लिए उनके घर द्वार पर जाएगी।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने ‘मुख्यमंत्री दूध उपहार’ योजना और ‘महिला एवं किशोरी सम्मान’ योजना का ब्रोशर और पोस्टर भी जारी किया। उन्होंने महिला और बाल विकास विभाग के सुपरवाइजर के स्थानांतरण के लिए ऑनलाइन स्थानांतरण नीति भी लॉन्च की।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

jind-pipe

देखें ऐसा क्या हुआ जब जींद अनाज मंडी बजने लगे पीपे

जींद (रोहताश भोला) । हरियाणा के जींद जिले में आढ़तियों और किसानो ने मिलकर अनोखा …

error: Content is protected !!