Home / International / Google ने ट्रांसजेंडर एक्टिविस्ट Marsha P. Johnson की याद में बनाया शानदार Doodle, जानें कौन थे

Google ने ट्रांसजेंडर एक्टिविस्ट Marsha P. Johnson की याद में बनाया शानदार Doodle, जानें कौन थे

Google (गूगल) आज LGBTQ+ राइट एक्टिविस्ट, परफॉर्मर, और सेल्फ आइंडेटिफाइड ड्रैग क्वीन Marsha P. Johnson को याद कर रहा है। गूगल ने Marsha P. Johnson की याद में आज यानी 30 जून 2020 को एक शानदार डूडल तैयार किया है। Marsha P. Johnson एक वकील भी थे जो समलैंगिक अधिकारों के लिए लड़े थे। गूगल ने अपने डूडल में Marsha P. Johnson की एक एनिमेटिड फोटो लगाई है जो काफी शानदार लग रही है। इसमें उन्होंने अपने सर में फूल भी लगाए हुए हैं। ऐसा कहा जाता है कि उन्हें अपने सिर पर फूल लगाना पसंद था। इस डूडल पर क्लिक करने पर आपको उनसे संबंधित कई जानकारी मिल जाएगी।

Advertisements

साथ ही उन्होंने एड्स जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ने के लिए भी कई सराहनीय काम किए। वे एक एड्स कार्यकर्ता भी थे। दरअसल पहले एड्स मरीजों को हीन भावना से देखा जाता था। ऐसे में Marsha P. Johnson ने लोगों को यह बताने का काम किया कि हमें एड्स मरीजों को हीन भावना से नहीं देखना चाहिए और यह ऐसी बीमारी से जो किसी को भी हो सकती है। Also Read : -पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह बोले- कोई खालिस्तान नहीं चाहता

आज यानी 30 जून 2020 को Marsha P. Johnson को मरणोपरांत न्यूयॉर्क सिटी प्राइड मार्च में भव्य मार्शल के रूप में सम्मानित किया गया था। Marsha P. Johnson का जन्म 24 अगस्त 1945 को एलिजाबेथ, न्यू जर्सी में हुआ था। ऐसा कहा जाता है कि Marsha P. Johnson खुद एक समलैंगिक थे। इस दौरान उन्होंने महसूस किया कि समाज उन्हें एक अलग नजर से देखता है, इसलिए वह खुद भी अपने अधिकारों के लिए लड़े और अंत में उनके योगदान को आज भी याद किया जाता है।Also Read : -भारत सरकार ने 31 जुलाई तक लागू रहने वाले ‘अनलॉक-2’ के लिए गाइडलांइस की घोषणा की।

Marsha P. Johnson का जन्म Malcolm Michaels Jr के घर हुआ था। इनकी माता का नाम अलबर्टा क्लिबोर्न था। Marsha P. Johnson एक मध्यम परिवार से ताल्लुक रखते थे। इनके पिता एक फैक्ट्री में काम करते थे। 1963 में Marsha P. Johnson हाई स्कूल पास करने के बाद वह न्यू यॉर्क ग्रीनविज विलेज शिफ्ट हो गए थे, जो एलजीबीटीडी + लोगों के लिए एक सांस्कृतिक केंद्र है। Also Read : -दीपेन्द्र हुड्डा का वायदा : कांग्रेस की सरकार बनी तो एक कलम से बहाल होंगे पीटीआई

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

ramnath

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद द्वारा पारित तीनों कृषि विधेयकों को दी मंजूरी

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कृषि बिल को मंजूरी दे दी है। इस बिल को राष्ट्रपति …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!