Breaking News
Home / National / आज रात 12 बजे से पूरे देश में 21 दिनों के लिए संपूर्ण लॉकडाउन

आज रात 12 बजे से पूरे देश में 21 दिनों के लिए संपूर्ण लॉकडाउन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दूसरी बार राष्ट्र को संबोधित कर रहे हैं। इससे पहले पीएम मोदी ने 19 मार्च को देश को संबोधित किया था, जिसमें मोदी ने 22 मार्च को देशभर में जनता कर्फ्यू लगाने की अपील की थी। साथ ही उन्होंने लोगों से शाम 5 बजे अपने घरों के बाहर और छत पर ताली, थाली, घंटी बजाकर आवश्यक सेवा देने वाले लोगों का आभार जताने की अपील भी की थी। देश के अधिकतर राज्यों में लॉकडाउन है और कुछ राज्यों में वहां की सरकार ने कर्फ्यू लागू कर दिया है। इसमें पंजाब , महाराष्ट्र और हिमाचल प्रदेश शामिल हैं. बता दें कि देश में अब तक कोरोना के 498 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं और 9 लोगों की मौत हो गई है।

Advertisements

प्रधानमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का जो संकल्प हमने लिया था। एक राष्ट्र के नाते उसकी सिद्धि के लिए हर भारतवासी ने पूरी संवेदनशीलता के साथ पूरी जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया। बच्चे-बुजुर्ग,छोटे-बड़े, गरीब-मध्यम वर्ग-उच्च वर्ग, हर कोई परीक्षा की इस घड़ी में साथ आया। एक दिन के जनता कर्फ़्यू से भारत ने दिखा दिया कि जब देश पर संकट आता है। जब मानवता पर संकट आता है तो किस प्रकार से हम सभी भारतीय मिलकर एकजुट होकर उसका मुकाबला करते हैं। पिछले 2 दिनों से देश के अनेक भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है। राज्य सरकार के इन प्रयासों को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए।

आज रात 12 बजे से पूरे देश में, ध्यान से सुनिएगा, पूरे देश में, आज रात 12 बजे से पूरे देश में, संपूर्ण Lockdown होने जा रहा है। हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर, पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है।

देश के हर राज्य को, हर केंद्र शासित प्रदेश को, हर जिले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले को अब लॉकडाउन किया जा रहा है। इसलिए मेरी आपसे प्रार्थना है कि आप इस समय देश में जहां भी हैं, वहीं रहें। अभी के हालात को देखते हुए देश में ये लॉकडाउन 21 दिन का होगा।

आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण साइकल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है। सोचिए, पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे और फिर इसे 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ 11 दिन लगे। ये और भी भयावह है कि दो लाख संक्रमित लोगों से तीन लाख लोगों तक ये बीमारी पहुंचने में सिर्फ चार दिन लगे।

इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी, लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है।

ये समय कदम-कदम पर संयम बरतने का है। आपको याद रखना है कि जान है जहान है। ये धैर्य और अनुशासन की घड़ी है। जब तक देश में लॉकडाउन की स्थिति है, हमें अपना संकल्प निभाना है,अपना वचन निभाना है।

अब कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए देश के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को और मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने आज 15हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। इससे कोरोना से जुड़ी टेस्टिंग फेसिलिटीज,पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्वीपमेंट्स और अन्य जरूरी साधनों की संख्या तेजी से बढ़ाई जाएगी।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

mansoon-session

आज से शुरू होगा संसद का मानसून सत्र, राज्यसभा के उपसभापति का भी होगा चुनाव

कोरोना महामारी के बीच संसद का मानसून सत्र सोमवार यानी आज से शुरू हो रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!