Home / Chandigarh / हरियाणा में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कांग्रेस की राजनीतिक माहौल गरमाने की तैयारी

हरियाणा में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कांग्रेस की राजनीतिक माहौल गरमाने की तैयारी

  • गृृहमंत्री अनिल विज ने पहले ही किया पलटवार

चंडीगढ़,23दिसम्बर। हरियाणा में कांग्रेस नागरिकता संशोधन कानून को लेकर राजनीतिक माहौल गरमाने की तैयारी में है। हालांकि भाजपा और उसके सहयोगी संगठन पहले ही इसके समर्थन में रैलियां आयोजित कर रहे है। हाल में सोनीपत,गोहाना,खरखौदा पानीपत पंचकूला में कानून के समर्थन में रैलियां और सेमिनार जैसे आयोजन कर कांग्रेस एवं अन्य विपक्षियों के प्रचार को खारिज किया गया।

Advertisements

 

कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन कानून के मुद््दे को लेकर समूचे हरियाणा में राजनीतिक माहौल गरमाने की रणनीतितैयार करने के लिए आगामी 28 दिसम्बर को चंडीगढ स्थित हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पार्टी की बैठक बुलाई है। उसी दिन चंडीगढ में इस कानून के विरोध में मार्च का आयोजन कर समूचे हरियाणा को संदेश देने का प्रयास किया जाएगा।
चंडीगढ़ में भी प्रदेश भाजपा ने पहले ही बुद्धिजीवियों के सम्मेलन आयोजित कर कानून पर स्थिति स्पष्ट करने का प्रयास किया है। इतना ही नहीं चंडीगढ प्रदेश भाजपा ने कानून के समर्थन में मार्च का आयोजन किया और समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों ने भी कानून के समर्थन में पत्र चंडीगढ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष संजय टंडन को सौंपे है। इसी बीच हरियाणा के गृृहमंत्री अनिल विज ने नागरिकता संशोधन कानून पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कांग्रेस के तमाम नेताओं के बयानों की कडी आलोचना करते हुए कहा है कि कांग्रेस की मानसिकता देश के विभाजन की रही है। पहले भी देश का विभाजन धर्म के आधार पर कराया गया है। अब नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश को इस तरह गुमराह किया जा रहा है ताकि विभाजन हो जाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सबसे बडी साम्प्रदायिक पार्टी है। पहले देश का धर्म के आधार पर विभाजन कराया और इस दौरान करीब दस लाख लोग मारे गए। इसके बाद सन् 1984 में सिख कत्लेआम कराया गया जिसमें तीन हजार सिखों की जान गई। उन्होंने इस मुद््दे पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड््डा द्वारा की गई आलोचना पर कहा कि पाकिस्तान और बाग्लादेश से धर्म के आधार पर प्रताडित होकर आए हिन्दुओं को नागरिकता देने से हुड््डा को क्या नुकसान है। उन्होंने कहा कि यह कानून नागरिकता देने वाला है। इसके जरिए किसी की नागरिकता छीनी नहीं जा रही।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

khalistan-poster

पंजाब के बाद अब चंडीगढ़ में भी खालिस्तान जिंदाबाद का पोस्टर लगा माहौल खराब करने की साजिश

चंडीगढ़ के सेक्टर-44 को दर्शाने वाले साइन बोर्ड पर आज एक पोस्टर लगा हुआ लोगों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!