Home / Haryana / बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों को समर्थन देने पहुंचे कांग्रेस नेता जयप्रकाश

बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों को समर्थन देने पहुंचे कांग्रेस नेता जयप्रकाश

जींद(रोहताश भोला) : पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस नेता जयप्रकाश उर्फ जेपी ने कहा कि पीटीआई अध्यापकों को बर्खास्त करना राजनीतिक साजिश है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में पीटीआई अध्यापकों को हटाने की बात नहीं कही थी। सरकार चाहती तो प्रस्ताव पारित कर अध्यापकों को रख सकती थी। विधानसभा सत्र के दौरान कांग्रेस पीटीआई अध्यापकों के मामले को लेकर प्रस्ताव लाएगी। जिसमें राजनीतिक दलों की गंभीरता स्पष्ट हो जाएगी। जयप्रकाश रविवार को लघु सचिवालय के बाहर धरनारत्त बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों को कांग्रेस पार्टी का समर्थन देने पहुंचे थे।

Advertisements

उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार चाहती तो पीटीआई अध्यापकों को रख सकती थी। साथ ही उन्होंने बर्खास्तगी के पीछे उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के सिर ठिकरा फोड़ा। उन्होंने पव्वा पव्वा गैंग के नाम से कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला अपना समर्थन भाजपा से वापस लेने की धमकी देते तो भाजपा की पीटीआई अध्यापकों को हटाने की हिम्मत नहीं होती।

पीटीआई अध्यापकों के मामले को लेकर आगामी सत्र में प्रतिपक्ष नेता भूपेंद्र हुड्डा के नेतृत्व में प्रस्ताव लाया जाएगा। उस प्रस्ताव का समर्थन कौन-कौन सी पार्टियां करती हैं उससे स्पष्ट हो जाएगा कि गठबंधन सरकार की मंशा अध्यापकों को लेकर क्या है। उन्होंने गठबंधन सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार में बैठे लोग तथा उनके परिजन शराब स्मगलिंग में शामिल हैं। एक करोड़ 40 लाख शराब की बोतलें लॉक डाउन के दौरान गायब हो गई। विभाग का मुखिया होने के कारण दुष्यंत चौटाला मामले पर लीपापोती करवाते रहे हैं। उन्होंने मानेसर भूमि घोटाले के बारे में कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का कहीं पर भी नाम मामले में नहीं है। न ही ईडी से जुड़ा कोई मामला है।

Advertisements

उन्होंने कहा कि जब मामले की परते खुलेंगी तो उसमे ओमप्रकाश चौटाला परिवार का नाम सामने आएगा। बरौदा उप चुनाव के मामले में उन्होंने कहा कि यह चुनाव आगामी राजनीतिक दशा तथा दिशा को तय करेगा। चुनावी मैदान में जबरदस्त जंगी घोड़े उतरेंगे, जिसमें कांग्रेस की जीत होना तय है। साथ ही उन्होंने बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों से आह्वान किया कि वे बरौदा उप चुनाव में कांग्रेस के साथ मिलकर सत्तासीन गठबंधन के खिलाफ मोर्चा खोलें। उन्होंने बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों को आश्वासन दिया कि कांग्रेस के सत्तासीन होते ही न केवल उन्हें बहाल किया जाएगा, बल्कि उनके चार वर्ष का लाभ भी दिलाया जाएगा।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

ramkumar kashyam

हलके की जनता की समस्याओं एवं शिकायतों को दूर करना,पहली प्राथमिकता- रामकुमार कश्यप

करनाल (पंकज कम्बोज) : इन्द्री के विधायक रामकुमार कश्यप ने सिंचाई विभाग के विश्राम गृह में जन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!