Breaking News
Home / Chandigarh / हॉस्पिटल में लगे कच्चे वर्करों को रेगुलर करने की मांग को लेकर भारत सरकार को लिखा खत

हॉस्पिटल में लगे कच्चे वर्करों को रेगुलर करने की मांग को लेकर भारत सरकार को लिखा खत

चंडीगढ़ (अजीत झा ) : जीएमसीएच सेक्टर 32 अस्पताल के डायरेक्टर प्रिंसिपल बीएस चवन ने चंडीगढ़ इंटक प्रदेश अध्यक्ष नसीब जाखड़ , एडवाइजर राकेश कुमार , चंडीगढ़ सबोर्डिनेट सर्विस फेडरेशन के प्रधान चरणजीत सिंह , जनरल सेक्रेटरी रणजीत मिश्रा और फेडरेशन के उप प्रधान एवं जीएमसीएच सुरक्षा कर्मचारी यूनियन के कैसियर सुखबीर सिंह को मीटिंग के लिए बुलाया क्योंकि 29 नवंबर को चंडीगढ़ इंटक द्वारा जीएमसीएच के सभी वर्करों की मांगों को लेकर एक विशाल रोष प्रदर्शन किया गया था । जिसमें सुरक्षा कर्मचारी यूनियन की ओर से एक मांग पत्र दिया गया था । उसमें एक मुख्य मांग यह थी कि हॉस्पिटल में पिछले 15 से 20 साल से लगे हुए आउटसोर्सिंग वर्करों के लिए पंजाब की तर्ज पर बनाए गए एक्ट को लागू करके तुरंत वर्करों को पक्का किया जाए ।

Advertisements

 

राजोआना को माफी न देने वाले अमित शाह के बयान को अकाली दल ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण
जिसके जवाब में प्रिंसिपल साहब ने बताया कि उन्होंने गवर्मेंट ऑफ इंडिया को एक लेटर लिख दिया है । जिसमें लिखा गया है कि हॉस्पिटल में लगे कच्चे वर्करों के लिए जल्द से जल्द कोई पॉलिसी बनाकर उनको रेगुलर करने के लिए परमिशन दी जाए । एक मुख्य मांग यूनियन की ओर से यह भी रखी गई थी कि जेम पोर्टल द्वारा वर्करों के काटे गए अधिकार जैसे कि बोनस नेशनल हॉलिडे वर्दी आदि लागू करवाई जाए । जिसके जवाब में प्रिंसिपल साहब ने बताया कि उनकी ओर से जल्द ही जैम अथॉरिटी को लेटर लिखा जाएगा इसके अलावा बाकी की मांगों पर भी चर्चा हुई जिसके जवाब में उन्होंने बताया कि सब मांगों को जल्द ही पूरा कर दिया जाएगा इस मीटिंग के बाद इंटक और फेडरेशन की ओर से डायरेक्टर प्रिंसिपल साहब का धन्यवाद किया गया और आशा की कि जल्द ही वर्करों की सभी मांगे पूरी कर दी जाएगी ।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

PM-MODI-BIRTHDAY

चंडीगढ़ में पीएम मोदी के जन्मदिन पर NSUI स्टूडेंटस ने सेक्टर-17 में बैठकर किया बूट पॉलिश

चंडीगढ़। पंजाब यूनिवर्सिटी के NSUI टीम की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन आज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!