Home / Chandigarh / चंडीगढ़ पुलिस हुई Hi- Tec,अब ऑन द स्पॉट कटेगा चालान -देखें वीडियो

चंडीगढ़ पुलिस हुई Hi- Tec,अब ऑन द स्पॉट कटेगा चालान -देखें वीडियो

User Rating: Be the first one !

चंडीगढ़ (किशन कुमार) । ट्रैफिक पुलिस लाइन में लंबी-लंबी कतार में खड़े होकर चालान भुगतान करने का झंझट अब खत्म हो गया । आज शुक्रवार से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालक ई-डिवाइस सिस्टम से ऑनलाइन पेमेंट करके मौके पर ही चालान का भुगतान कर सकते हैं। प्रशासक वीपी सिंह बदनौर ने आज इस डिवाइस को लांच कर ऑनलाइन चालान भुगतान प्रक्रिया की शुरुआत की है । वहीं, जिन चालकों का लाइसेंस कैंसिल होगा या वाहन जब्त किया जाएगा, उन्हें चालान का भुगतान पहले की तर्ज पर कोर्ट में ही करना पड़ेगा।

Advertisements

अब चालान का भुगतान केवल ऑनलाइन ही किया जाएगा, कैश में भुगतान की सुविधा नहीं होगी। बता दें कि बीते 2019 में ट्रैफिक पुलिस ने इससे पहले 32 ई-डिवाइस को ट्रायल बेस शुरू किया था, जिसे पूरी ट्रेनिंग के बाद आज से लागू किया गया है।

 

ट्रैफिक पुलिस के आला अधिकारियों के अनुसार, वाहन चलाते समय मोबाइल इस्तेमाल करने, रेड लाइट जंप करने, ड्रंकन-ड्राइव, ओवर स्पीड, साइकिल ट्रैक पर वाहन चलाने, समेत अन्य नियमों के उल्लंघन पर भुगतान ई-डिवाइस से नहीं किया जाएगा। बल्कि पकड़े गए वाहन चालकों का रिकॉर्ड खंगालकर पहले की तर्ज पर कोर्ट में ही भुगतान करना पड़ेगा। ट्रैफिक पुलिस नेे आरएलए समेत आरटीओ ऑफिस का चालान सॉफ्टवेयर भी इस डिवाइस से कनेक्ट करवाया गया है। इसके चलते ट्रैफिक पुलिस जिस वाहन का चालान करेगी, उस वाहन की चालान संबंधी नई, पुरानी सभी डिटेल ई-डिवाइस के जरिए पता लग जाएगी। इसके जरिए यह भी पता चल जाएगा कि वाहन चालक का इससे पहले चालान कटा हुआ है या नहीं। इस तरह बार-बार ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालक के ड्राइविंग लाइसेंस सस्पेंड का दिया जाएगा।

Advertisements

 

ई-डिवाइस का इस्तेमाल ट्रैफिक की ईस्ट डिवीजन, सेंट्रल डिवीजन, साउथ डिवीजन और साउथ वेस्ट डिवीजन में किया जाएगा। ट्रैफिक पुलिस वाहन चालकों से यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर मौके पर भुगतान राशि वसूलती दिखाई दी , वहीं अधिकारियों के अनुसार, इस नई ई-डिवाइस के बाद ट्रैफिक लाइन में तैनात स्टाफ पुलिसकर्मियों का काम पहले के मुकाबले काफी हद तक कम हो जाएगा।

 

बता दें कि इस प्रोजेक्ट की शुरुआत वर्ष 2011 में की गई थी, जिसे लागू करने में ट्रैफिक पुलिस को करीब नौ साल लग गए। इससे पहले यातायात नियमों के उल्लंघन पर ट्रैफिक पुलिस चालान काटकर वाहन चालक को रसीद थमा देती थी। इसके बाद चालक सेक्टर-29 स्थित ट्रैफिक पुलिस लाइन के चालान शाखा में घंटों कतार में लगकर चालान का भुगतान करता था।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

Image-2

सांसद रहते हुए जो सपने देखे थे उन्हें पूरा होते देख खुशी हो रही है – उपमुख्यमंत्री

हिसार/चंडीगढ़, 24 सितंबर। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सांसद रहते हुए हांसी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!