Home / Haryana / फसलों के विविधिकरण के लिए केंद्र देगा हरियाणा को आर्थिक सहायता -सीएम

फसलों के विविधिकरण के लिए केंद्र देगा हरियाणा को आर्थिक सहायता -सीएम

दिल्ली। हरियाणा की महत्वपूर्ण परियोजना मेरा पानी-मेरी विरासत के अंतर्गत फसलों के विविधिकरण को विस्तार देने के लिए केंद्र द्वारा हरियाणा को 500 करोड़ रुपए तथा तालाबों के जीर्णोद्घार व जलशोधन के लिए भी हरियाणा को केंद्र से 1000 करोड़ रुपए की सहायता मिलेगी। यह जानकारी मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरुवार को नई दिल्ली में दी। वे केंद्रीय जल मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के साथ बैठक के बाद हरियाणा भवन में मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

Advertisements

 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरुवार को नई दिल्ली केंद्रीय जल मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के साथ बैठक की। बाद में हरियाणा भवन में मीडिया से बातचीत करते हुए उन्हों ने बताया कि केंद्र ने हरियाणा की विभिन्न जल संरक्षण परियोजनाओं की प्रशंसा की है और परियोजनाओं के सफल क्रियान्वयन की दिशा में केंद्र पर्याप्त आर्थिक सहयोग करेगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि केंद्रीय जल शक्ति मंत्री ने हरियाणा की विभिन्न जल संरक्षण परियोजनाओं की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी चर्चा की है।

उन्होंने बताया कि मेरा पानी-मेरी विरासत योजना के अंतर्गत धान फसल की अपेक्षा कम जल के उपयोग वाली अन्य फसलों की कृषि के लिए किसानों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत निर्धारित किए गए एक लाख हेक्टेयर क्षेत्र के लक्ष्य से भी अधिक क्षेत्र में धान की अपेक्षा अन्य फसलों की कृषि की योजना क्रियांवित की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत फसलों के विविधिकरण के विस्तार के लिए हरियाणा को केंद्र से 500 करोड़ रुपए की सहायता मिलेगी। उन्हों ने बताया कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत वर्ष 2022 तक प्रदेश के प्रत्येक घर में नल से साफ़ जल आपूॢत करने की योजना के तहत हरियाणा में हुई प्रगति की भी केंद्र ने प्रशंसा की है। इसी वर्ष 15 अगस्त को हरियाणा के 1000 गांवों में यह योजना शुरू होगी।

Advertisements

उन्हों ने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत तालाबों के जीर्णोद्घार व जल शोधन के लिए केंद्र द्वारा हरियाणा को मैचिंग ग्रांट के रूप में 1000 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के 14000 तालाबों के जीर्णोद्घार की योजना को भी योजनाबद्घ रूप से क्रियांवित किया जा रहा है। वर्तमान में महाग्राम योजना में शामिल क्षेत्रों के 20 तालाबों में यह कार्य प्रगति पर है। तालाबों के जल को जैविक विधि से शुद्ध करने की योजना के अंतर्गत केंद्र हरियाणा में सोनीपत जिला के जुआं गांव के तालाब के लिए पायलेट प्रोजेक्ट आरंभ करेगा। अटल भूजल योजना के अंतर्गत हरियाणा प्रदेश में गिरते भूजल को नियंत्रित करने के लिए 1000 वाटर रिचार्जिंग वेल स्थापित किए जाएंगे

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

GURNAM-SINGH-HARYANA-GOVT

गुरनाम सिंह चढूनी की चेतावनी- या तो सरकार फैसला वापस ले या किसानों को गोली मार दे।

पंचकूला। केंद्र सरकार द्वारा लाए जा रहे कृषि अध्यादेश के खिलाफ आज हरियाणा सहित पूरे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!