Home / बेचैन कलम

बेचैन कलम

आपातकाल में मकरसंक्रांति कैसे मनाएं ?

📝आपातकाल में मकरसंक्रांति कैसे मनाएं ? ‘कोरोना की पृष्ठभूमि पर गत कुछ महीनों से त्योहार-उत्सव मनाने अथवा व्रतों का पालन करने हेतु कुछ प्रतिबंध थे । यद्यपि कोरोना की परिस्थिति अभी तक पूर्णतः समाप्त नहीं हुई है, तथापि वह धीरे-धीरे पूर्ववत हो रही है । ऐसे समय त्योहार मनाते समय …

Read More »

छन्द मुक्त गजल

gajal

छन्द मुक्त गजल _ एक रात में रद्दी अखबार हो क्या? खून के प्यासे तलवार हो क्या? करते हो कविता बेकार हो क्या? डरते हो खुद से गद्दार हो क्या? लौटाया सबने पुरस्कार हो क्या? सर पर हो चढ़ते बुखार हो क्या? बढ़ते ही जाते उधार हो क्या? रुलाते हो …

Read More »

आंध्र प्रदेश के मंदिरों पर आघातों का षड्यंत्र ?

सरकार को हिन्दुओं के मंदिर चाहिए, तो वह सर्वप्रथम भारत को ‘हिन्दू राष्ट्र’ घोषित करे ! – एम. नागेश्‍वर राव, ‘सीबीआई’ के भूतपूर्व प्रभारी संचालक   वर्ष 2020 में आंध्र प्रदेश में मंदिरों में तोडफोड की 228 घटनाएं हुईं, ऐसा राज्य के पुलिस महासंचालक ने कहा है । इन हिन्दूविरोधी …

Read More »

लड़कियां बाएं पैर पर ही काला धागा क्यों बांधती हैं? जानिए

girls hot

आजकल आमतौर पर लड़कियां पैर में काला धागा बांधती है ।लेकिन इसके पीछे के क्या कारण हैं ?काला धागा अपने पैरों में क्यों पहनती हैं ?आजकल लड़कियों का पैर में काला धागा बांधना एक फैशन सा बन गया है।   प्राचीन काल से ही काला टीका लगाना, काले कपड़े पहनना …

Read More »

कोरोनाकाल में बढ़े Extra Marital Affair के मामले, एक्स्ट्रा मैरिटल डेटिंग ऐप के जरिए दिल लगा रही महिलाएं

dating app

आज के समय में खरीदारी से लेकर दोस्तों के साथ बात करने के लिए सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट्स का इस्तेमाल किया जाता है। देखा जाए तो आजकल बहुत सारी डेटिंग एप्स (Dating Apps) भी आ गई हैं यानि आप ऑनलाइन (Online)किसी से भी बातें कर सकते हैं। बिना किसी को जाने …

Read More »

जीएसटी से बेहाल सरकार अब राहत की कश्मकश में

GST HINDXPRESS NEWS

जीएसटी पर केंद्र सरकार और गैर बीजेपी शासित राज्यों के बीच मामला सुलझता नहीं दिख रहा है. पहले जीएसटी की 41वीं बैठक में उम्मीद थी की कुछ बात बनेगी लेकिन उसे 42वीं बैठक के लिए राज्यों के उपर फैसला लेने को छोड़ दिया गया. सोमवार को जीएसटी काउंसिल की 42वीं …

Read More »

मुझे तो सरकार से केवल इतना ही कहना है….

मुझे सरकार से केवल इतना कहना है कि यदि आप अपने देश के अन्नदाता की परेशानी नहीं दूर कर पा रहे तो बाकी मुद्दे तो बहुत बड़े बड़े हैं ।दीपा शर्मा प्रदेश महासचिव ने ये बात पत्रकारों को कहि की कोरोना की घड़ी में ओर सिकुड़ती ढंड में किसान भाई …

Read More »

अंतर्मन चेतना को पहचाने

aatma

अंतर्मन चेतना को पहचानें _ [ अगर हम अच्छी सोच के साथ जीना सीख जाएं तो बुरी स्थितियां अपने आप खत्म हो जाएंगी ] हमारे जीवन में आने वाले उतार-चढाव भी उतने ही स्वाभाविक हैं, जितना कि मौसम का बदलना, पेड-पौधों का मुरझाना और दोबारा उन पर नई कोपलें फूटना। …

Read More »

नशे से जीवन का सत्यानाश

नशे से जीवन का सत्यानाश _ दिल पे नशा ये भारी है, सबसे बड़ी बीमारी है। कुछ पल का नशा सारी उम्र की सजा। फिक्रमंदी बैगर अच्छे-अच्छों को नशे का नशा हो जाता है। नशा चीज ही ऐसी है भाई! फिर क्यों नशे का नशा ना हो। गुमानी में जिधर …

Read More »

समय की महत्ता

IMPOTANCE OF TIME

समय की महत्ता _ समय का सदुपयोग नामक इस शब्द से तात्पर्य है। समय की महत्ता को समझते हुए अपने जीवन के हर क्षेत्र में समय का कुशलता पूर्वक प्रयोग करना। समय एक ऐसी चीज है, जो किसी भी स्थिति में अपने निरंतरता में बाध्यता नहीं आने देती है। यह …

Read More »