Breaking News
Home / Punjab / नक्शे सिर्फ ऑनलाईन पोर्टल के द्वारा किये जाएंगे मंज़ूर – ब्रह्म मोहिन्द्रा

नक्शे सिर्फ ऑनलाईन पोर्टल के द्वारा किये जाएंगे मंज़ूर – ब्रह्म मोहिन्द्रा

चंडीगढ़, 6 अगस्त: नक्शों की मंज़ूरी लेने में और ज्य़ादा पारदर्शिता लाने और लोगों का समय बचाने के लिए स्थानीय निकाय मंत्री, ब्रह्म मोहिन्द्रा ने नगर निगमों के समूह कमिशनरों और क्षेत्रीय डायरेक्टरों को 6 अगस्त, 2020 से सिफऱ् ऑनलाइन पोर्टल के द्वारा नक्शों को मंज़ूरी देने के लिए निर्देश जारी किये हैं। यह निर्देश तुरंत प्रभाव से लागू होंगे। इस कदम से लोगों को मंजूरी लेने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा और इस सिस्टम से मध्यस्थता से भी राहत मिलेगी।

Advertisements

आज यहाँ जारी एक प्रैस बयान के द्वारा जानकारी देते हुये ब्रह्म मोहिन्द्रा ने बताया कि पंजाब सरकार ई-सर्विस प्रोग्राम के अंतर्गत आम लोगों को अधिक से अधिक ई-सहूलतें प्रदान करने के लिए वचनबद्ध है और इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए 15 अगस्त, 2018 को ई-पोर्टल की शुरूआत की गई थी। उन्होंने आगे कहा कि पहले इस पोर्टल में कुछ तकनीकी कमियां थी, जिसको अब ठीक कर दिया गया है और पोर्टल को बढिय़ा ढंग से फिर चालू किया गया है जिससे आम लोगों को नक्शों की ऑनलाइन मंजूरी और अन्य सेवाएंं लेने में कोई मुश्किल पेश न आए।

 

लोगों के हितों को ध्यान में रखते हुए अब पंजाब सरकार ने ऑनलाइन बिल्डिंग प्लान मंजूरी प्रणाली (ओबीपीएएस) के साथ-साथ उपरोक्त निर्विघ्न ऑनलाइन सेवाओं की शुरूआत करके एक नया मील पत्थर स्थापित किया है। अब आम लोग ओबीपीएएस सिस्टम के साथ रैगूलराईज़ेशन पॉलिसी के अंतर्गत प्लाटों की ऑनलाइन नक्शों की मंज़ूरी, ऑनलाइन लेआउट मंजूरी, ज़मीनी प्रयोग तबदील सम्बन्धी ऑनलाइन मंजूरी, टैलीकॉम्नीकेशन टावर के लिए ऑनलाइन मंजूरी और प्लाटों की एनओसी के लिए ऑनलाइन मंजूरी प्राप्त कर सकते हैं। इन सेवाओं की शुरूआत से स्थानीय निकाय विभाग राज्य के नागरिक के लिए तेज और निर्विघ्न सेवाएं मुहैया करवाना यकीनी बनाऐगा।

 

स्थानीय निकाय मंत्री ने आगे कहा कि नक्शों और अन्य सेवाओं पोर्टल पर आसानी से उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि 05 अगस्त, 2020 के बाद विभाग में यह सभी काम सिफऱ् ई-पोर्टल के द्वारा किये जा रहे हैं। अब लोग ऑनलाइन पोर्टल – ईनक्शा के द्वारा ऑनलाइन जमा करने के योग्य होंगे। इसमें सी.ए.डी. ड्राइंग फाइल की कंप्यूटर वैरीफिकेशन, ऑनलाइन भुगतान की सुविधा, फाइलें भेजने और निर्धारित समय सीमा के अंदर मंजूरी, आवेदकों के साथ ऑनलाइन स्थिति को ई-मेल और एसएमएस के ज़रिये सांझा करना, डिजिटल हस्ताक्षरों वाला कंप्यूटर के द्वारा तैयार किया सर्टिफिकेट और रेरा की पालना के लिए प्रोजेक्टों की बेहतर निगरानी करना शामिल है।

ब्रह्म मोहिन्द्रा ने कहा कि इन आदेशों की पालना को यकीनी बनाने के लिए सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं और पालना न करने की सूरत में सम्बन्धित अधिकारियों के खि़लाफ़ सख्त कार्यवाही की जायेगी।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

cm punjab lockdon

CM अमरिंदर सिंह बोले -अब बहुत हो चुका,विवाह और अंतिम संस्कार की रस्मों को छोड़ सभी कार्यक्रमों पर रोक

चंडीगढ़, 20 अगस्त: राज्य में बड़े स्तर पर बढ़ रहे कोविड के मामलों से निपटने …

error: Content is protected !!