Home / Haryana / कृषि अध्यादेशों को लेकर किसानों के साथ BJP सांसदों ने की बैठक

कृषि अध्यादेशों को लेकर किसानों के साथ BJP सांसदों ने की बैठक

पंचकूला (उमंग श्योराण)। किसान अध्यादेश पर चल रहे विवाद के बाद आखिरकार सरकार की तरफ से तीन सांसदों की किसान संगठनों के साथ बैठक पूरी हो गई। जिसके बाद तीनों सांसदों की तरफ से ये दावा किया गया कि बहुत सारे सुझाव किसानों की तरफ से मिले हैं और 16 तारीख को उम्मीद है कि ये अध्यादेश संसद में पास होने के लिए पटल पर रखे जाएं और उससे पहले किसान संगठनों के नेताओं के साथ केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की मुलाकात कराई जाएगी और किसानों की परेशानी से उनको अवगत करवाया जाएगा।

Advertisements

बीजेपी सांसद धर्मबीर सिंह ने कहा कि बैठक में ये सामने आया कि किसानों में शंका है और वे ये सोच रहे हैं कि कहीं अध्यादेश होने से एमएसपी तो खत्म नहीं हो जाएगी, कहीं मंडी बोर्ड ही खत्म नहीं हो जाएगा । उन्होंने कहा कि जबकि सरकार मंडी करण को बढ़ाने की सोच रही है। सांसद धर्मबीर सिंह ने कहा कि उन्हें लगता है कि किसानों के बीच भ्रांतियां ज्यादा फैली हुई है और किसानों की भ्रांतियों को दूर करने के लिए केंद्रीय नेतृत्व से बात की जाएगी।

उन्होंने कहा कि सरकार का काम है कि किसान की आमदनी को दोगुना करना, किसान को मजबूत करना और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी यही सपना है। वहीं किसानों पर हुए लाठीचार्ज की तुलना सांसद धर्मबीर सिंह ने बेहद ही बेतुके ढंग से करते हुए कहा कि अगर कोई मच्छर बैठ जाता है तो उसको ये नहीं कहा जाता कि मच्छर काट गया, मच्छर ने काटा नहीं और हमने कह दिया कि मार दिया मार दिया, कहां मार दिया ।

Advertisements

वहीं, बैठक के बाद किसान संगठनों की तरफ से भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बैठक में सहमति नहीं बनी है। हालांकि अपने सुझाव उन्होंने सरकार को दे दिए हैं और वो चाहते हैं कि एमएसपी नए तरीके से बनाई जाए और सीटू का 50 फीसदी के हिसाब से नए एमएसपी की गणना हो। उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू की जाए।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

GURNAM-SINGH-HARYANA-GOVT

गुरनाम सिंह चढूनी की चेतावनी- या तो सरकार फैसला वापस ले या किसानों को गोली मार दे।

पंचकूला। केंद्र सरकार द्वारा लाए जा रहे कृषि अध्यादेश के खिलाफ आज हरियाणा सहित पूरे …

error: Content is protected !!