Home / Haryana / हरियाणा की भाजपा सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा खरीदी गई फसलों ने बनाया रिकॉर्ड :रमन मलिक

हरियाणा की भाजपा सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा खरीदी गई फसलों ने बनाया रिकॉर्ड :रमन मलिक

गुरुग्राम। हरियाणा सरकार ने पिछले 5 साल में धान, गेहूं, बाजरा, मक्का, चना, मूंग व सूरजमुखी की फसलों की गई खरीद में नए रिकॉर्ड बनाए हैं। वर्ष 2015 -16 में जहां धान की 42.70 लाख मीट्रिक टन खरीद की गई थी, वही वर्ष 2019-20 में 64 .71 लाख मैट्रिक टन धान की खरीद की गई। यह दावा भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता रमन मलिक ने किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पिछले 5 साल में लगातार खरीद में बढ़ोतरी की गई है। Read Also : लाठीचार्ज के बाद भाकियू ने दी संसद कूच की धमकी,कहा – सब राजनीतिक पार्टियां एक ढाल
रमन मालिक ने कहा कि किसानों की आय को दोगुना करने के लिए प्रदेश सरकार वचनबद्ध है। किसानों को उनकी फसल बेचने के लिए किसी भी तरह की परेशानी नहीं हो रही है। इसी तरह वर 2015 16 में गेहूं की 67.70 लाख मैट्रिक टन की खरीद की गई थी जो वर्ष 2020 21 में बढ़कर 75.98 लाख मैट्रिक टन हो गई है। इसी तरह बाजरा जो वर्ष 2015 16 में 5094 मीट्रिक टन खरीदा गया था वह वर्ष 2019-20 में बढ़कर 310921 मीट्रिक टन हो गया। इसके अलावा वर्ष 2020 21 में 7 7.50 लाख मैट्रिक टन सरसों की खरीद की गई। इसी तरह प्रदेश सरकार ने चने की 10703 मीट्रिक टन खरीद वर्ष 2019-20 में की है।
मलिक ने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों को मुआवजा देने में कोई कसर नहीं छोड़ी और जितना मुआवजा आज तक हरियाणा के इतिहास में दिया गया है उससे ज्यादा मुआवजा मनोहर लाल जी की सरकार आज तक दे चुकी होगीl
गुरुवार को पीपली किसानों पर हुए लाठीचार्ज की जांच करवाई जाएगी: मलिक
किसानों के साथ हुए लाठीचार्ज की घटना को लेकर रमन मलिक ने कहा कि यह घटना दुर्भागयपूर्ण है। सभी को परिस्थिति को संयम में रखना चाहिए था किसानों पर लाठीचार्ज उचित नहीं है। मलिक ने कहा कि वह शक्तियां जो आज तक किसान को स्वतंत्र होकर आप आत्मनिर्भर नहीं होने देना चाहती थी, वह फिर कारगर होने की कोशिश कर रही हैं। मलिक ने बोला कि यह मामला संवाद से सूख जाएगा, लेकिन जो लोग इसमें विवाद की परिस्थिति उत्पन्न करना चाहते हैं, वह किसानों और भारत के अन्नदाता के असली दुश्मन है। मलिक ने बताया कि किसानों से संवाद के लिए प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष और किसानों का प्रतिनिधित्व करने वाले जुझारू किसान नेता और पूर्व कृषि मंत्री हरियाणा ओपी धनखड़ ने तीन सदस्य कमेटी बनाई है। इस कमेटी में तीन सांसद भिवानी से धर्मवीर, कुरुक्षेत्र से नायब सैनी और हिसार से सांसद विजेंद्र सिंह शामिल किए गए हैं। यह तीन सदस्य कमेटी किसानों से इन तीनों अध्यादेशों के ऊपर प्रस्ताव और सुझाव लेगी।
Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

rohtak-gurnam-singh

अंबावता के प्रदेशाध्यक्ष का समर्थन मिलते ही गुरनाम सिंह चढूनी ने कर दिया बड़ा एलान – देखें

रोहतक (सनी ) : केंद्र सरकार के 3 कृषि अध्यादेशों के विरोध में 20 सितंबर …

error: Content is protected !!