Breaking News
Home / Haryana / भारत बंद : 25 सितंबर को आंदोलन में शामिल नेताओं ने दी सरकार को दी चेतावनी

भारत बंद : 25 सितंबर को आंदोलन में शामिल नेताओं ने दी सरकार को दी चेतावनी

टोहाना (नवल सिंह) । 25 सितंबर के भारत बंद को लेकर जहां गृह मंत्री अनिल विज ने इसे पूरी तरह से फेल बताया है वही आंदोलन में शामिल नेताओं ने इस आंदोलन को सफल बताते हुए अपनी प्रतिक्रिया दी है व कहां है कि आने वाले समय में अगर सरकार ने किसानों की मांग नहीं सुनी तो यह आंदोलन और भी बड़ा व्यापक होगा जो सरकार के लिए खतरे की घंटी है।

Advertisements

 

आम आदमी पार्टी के जिला संगठन मंत्री सुखविंदर सिंह गिल ने कहा है कि 25 सितंबर का भारत बंद हरियाणा में वह जिला फतेहाबाद में पूरी तरह से सफल रहा इसमें किसान मजदूर है आढती सड़कों पर उतर कर आए उन्होंने बताया कि इस आंदोलन में किसान व राजनीतिक पार्टी के लोग एक मंच पर आए वह सभी ने एक स्वर में अध्यक्षों का विरोध किया उन्होंने कहा कि सरकार को इस मामले में सोचना चाहिए क्योंकि किसान एक मन से इस अध्यादेश का विरोध कर रहे हैं सरकार को चाहिए कि अध्यादेश को वापस ले नहीं तो आने वाले समय में एक बड़ा आंदोलन खड़ा होगा वह सरकार को पटखनी देने का काम करेगा।

 

कांग्रेस पार्टी के किसान सेल के जिला अध्यक्ष बलजिंदर सिंह छवि ने कहा कि किसान आंदोलन पूरी तरह से सफल रहा है इस आंदोलन में सभी लोग अपनी राजनीतिक पहचान छोड़कर किसान वे आम व्यक्ति की तरह आंदोलन में शामिल हुए हैं गांव में है शहर हर सड़क पर सरकार का विरोध किया गया है क्योंकि किसान मजदूर भारती इस कानून से बुरी तरह से प्रभावित होगा आज के समय में सरकार कारपोरेट जय व्यापारी घरानों के दबाव में आकर लाना चाहती है उसे आम किसान मजदूर की कोई चिंता नहीं है पर मजदूर किसी दबाव में नहीं आने वाला वह सब लोग खुलकर इसका विरोध कर रहे हैं वही अनिल विज के बयान पर उन्होंने कहा मंत्री जी कि सीआईडी व अन्य सूत्रों से सही जानकारी ले क्योंकि इस आंदोलन में भारी संख्या में जनसमूह उमड़ा है टोहाना क्षेत्र की ही बात करें तो यहां पर भारी संख्या में लोग सड़कों पर थे। उन्होंने कहा कि सरकार इस अध्यादेश को तुरंत वापस ले। किसान सभा जो भी इस मामले में प्रदेश व देश स्तर में फैसला लेगी वह उस आंदोलन में साथ खड़े हुए नजर आएंगे वह जान की बाजी लगा देंगे।

Advertisements

 

इनेलो पार्टी से नगर पार्षद व विधानसभा प्रत्याशी राजपाल सैनी ने भी इस आंदोलन को सफल बताया वह कहा कि यह तो अभी शुरूआत है आने वाले समय में यह आंदोलन और भी खेलेगा और इसकी संख्या और भी बढ़ेगी अभी तो शुरुआती दौर में ही सरकार इस आंदोलन को नहीं संभाल पा रही तो आगे आने वाले समय में जब हर व्यक्ति सड़क पर होगा तो सरकार इसे कैसे संभालेगी उन्होंने कहा कि सरकार व प्रशासन को चाहिए कि किसानों अन्य वर्ग की मांग पर गौर फरमाए नए-नए देशों को वापस ले नहीं तो आने वाले समय में आंदोलन व्यापक रूप ले लेगा। आंदोलन से किसान सरकार को अक्ल लगाने का काम करेगा वही इसके प्रभाव भी सरकार को भुगतने पड़ेंगे।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

gangster

यूपी/बांदा में पुलिस ने गाजे-बाजे के साथ जब्त की गैंगस्टर की करोड़ों की संपत्ति कुर्क

यूपी/बांदा: लक्ष्मी कांत तिवारी ( रामजी) : बांदा पुलिस ने बुधवार को शहर के गैंगस्टर …

error: Content is protected !!