गैंगेस्टर रणदीप राणा के पिता की दिन-दहाड़े हत्या | Hindxpress

गैंगेस्टर रणदीप राणा के पिता की दिन-दहाड़े हत्या,कार सवार 4 युवकों ने मारी गोली

गैंगेस्टर रणदीप राणा के पिता की दिन-दहाड़े हत्या,कार सवार 4 युवकों ने मारी गोली

रोडवेज बस ने बुजुर्ग महिला को कुचला, प्रत्यक्षदर्शी बोले – शोर मचाने के बावजूद नहीं रोकी बस
जींद/ट्रक ड्राइवर ने कंडक्टर के गले में घोंपा पेंचकस- -सीसीटीवी वीडियो

अंबाला छावनी, 31 जुलाई। सावन की शिवरात्रि की सुबह (बुधवार) जब सारा शहर भगवान भोलेनाथ की आराधना में लीन था, उसी वक्त अंबाला छावनी की गांधी मार्केट गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज रही थी। कार में सवार होकर आए चार बेखौफ बदमाशों ने 65 वर्षीय बुजुर्ग पर एक के बाद एक लगभग आधा दर्जन गोलियां दाग उन्हें छलनी कर दिया और घटना को अंजाम देकर बड़े आराम से फरार हो गए। आनन-फानन में घायल बुजुर्ग को छावनी के सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। गोलीबारी की पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है। जिसमें साफ देखा जा सकता है कि अपराधी किस तरह कार से उतरे और सरेआम रिवाल्वर लहराते हुए चाय की दुकान में घुसे। घटना की सूचना मिलते ही डीएसपी समेत कई बड़े पुलिस अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचे।

पुलिस के अुनसार मृतक काका सिंह (65) गैंगेस्टर रणदीप राणा का पिता है। प्रथम दृष्टया यह पूर्व में हुई गैंगवार का नतीजा मालूम पड़ता है। पुलिस टीम हर पहलू की गंभीरता से जांच कर रही है। काका सिंह हरियाणा पुलिस विभाग से सेवानिवृत थे। हमलावर जिस मारुति कार में आए उसका नंबर क्कड्ढ 082-7861 बताया जा रहा। वारदात आज सुबह करीब 8 बजकर 40 मिनट की है। 65 वर्षीय बुजुर्ग काका सिंह अक्सर फुटबॉल खेलकर चाय की इसी दुकान पर चाय पीने आते थे। रोजाना की तरह आज भी सुबह 8:40 पर जब वह चाय पी रहे थे तो इतने में एक व्यक्ति ने वहां आकर सिगरेट खरीदकर जलाई और कुछ देर रूकने के बाद उसके दो और साथी भी वहां आ धमके। इन लोगों ने इस बुजुर्ग पर गोलियों से ताबड़तोड़ फायर कर दिए और पहले से नजदीक खड़ी एक कार में बैठकर फरार हो गए।

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक यह गोलीकांड दो अपराधी गुटों के बीच चल रही गैंगवार का नतीजा बताया जा रहा है। पुलिस मौके पर पहुंचकर सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालने के साथ-साथ वारदात की जानकारी एकत्रित कर रही है। गांधी मार्केट में आज हुए इस गोलीकांड से यहां के दुकानदारों में दहशत का माहौल बना हुआ है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0