Home / Haryana / 45 करोड़ से अब श्री MATA MANSA DEVI मंदिर विस्तार और निर्माणकार्य में और आएगी तेजी – होंगे ये काम

45 करोड़ से अब श्री MATA MANSA DEVI मंदिर विस्तार और निर्माणकार्य में और आएगी तेजी – होंगे ये काम

पंचकूला (उमंग श्योराण)। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में वीरवार को पंचकूला में हुई माता मनसा देवी श्राइन बोर्ड पंचकूला की 18 वीं बैठक में कुल 25 एजेंडा आइटम उठाए गए। विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता और मुख्य सचिव केशनी आनन्द अरोड़ा भी बैठक में उपस्थित थी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल, जोकि माता मनसा देवी श्राइन बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं, ने संबंधित अधिकारियों को जल्द से जल्द डायग्नोस्टिक सेंटर के निर्माण की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 4 कनाल और 6 मरला भूमि पर बनने वाले इस डायग्नोस्टिक सेंटर में आने वाले लोगों को चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने के लिए सेवानिवृत्त डॉक्टरों के अलावा विभिन्न गैर-सरकारी संगठनों से जुड़े चिकित्सकों की सेवाएं भी ली जानी चाहिए। यह डायग्नोस्टिक सेंटर श्री माता मनसा देवी श्राइन बोर्ड द्वारा बनाया, प्रबंधित किया और चलाया जाएगा तथा सभी आधुनिक और नवीनतम सुविधाओं से लैस होगा। इस डायग्नोस्टिक सेंटर में उपचार और परीक्षण की सुविधाएं रियायती दरों पर प्रदान की जाएंगी।

Advertisements

 

माता मनसा देवी पूजा स्थल परिसर में संस्कृत महाविद्यालय के स्थापना कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए, मनोहर लाल ने उच्च शिक्षा विभाग को जल्द से जल्द भूमि का कब्जा लेने और भवन निर्माण की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए। श्री माता मनसा देवी संस्कृत महाविद्यालय के नाम से बनने वाला यह संस्कृत महाविद्यालय 2.10 एकड़ भूमि पर स्थापित किया जाएगा।

 

इस दौरान बताया गया कि प्रवेश प्रक्रिया आगामी सत्र से शुरू हो जाएगी और जब तक संस्कृत महाविद्यालय का निर्माण नहीं हो जाता, तब तक इसकी कक्षाएं श्री माता मनसा देवी धर्मार्थ भंडारा कमेटी के ऊपरी भूतल पर खाली हॉल में शुरू की जाएंगी। उन्होंने माता मनसा देवी पूजा स्थल परिसर मेेंं राष्ट्रीय आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान की स्थापना के मुद्दे पर केंद्रीय आयुष मंत्रालय से बात करने के भी निर्देश दिए। इस संस्थान की स्थापना के लिए श्राइन बोर्ड ने आयुष मंत्रालय को अपने परिसर में 20 एकड़ भूमि उपलब्ध करवाई है।

Advertisements

पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस परियोजना की आधारशिला रखी थी जिस पर 278.66 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि खुले दृश्य और दर्शन के लिए माता मनसा देवी मंदिर में दूसरा प्रवेश द्वार भी खोला जाएगा। इस समय, श्रद्धालुओं की कतारें मंदिर के दाईं ओर बनाए गए एक एंट्री शेड के माध्यम से बनाई जाती है। इसके अलावा, मोरनी के पास चंडीवास मंदिर में एक शेड के निर्माण का भी निर्णय लिया गया, जिस पर अगले सप्ताह कार्य शुरू हो जाएगा। इसके अलावा, मंदिर की रिटेनिंग वॉल या चारदीवारी का भी निर्माण किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि काली माता मंदिर, कालका के अपने दौरे के दौरान, मनोहर लाल ने चंडीवास मंदिर का भी दौरा किया था, जहां उनसे मंदिर में एक शेड और चारदीवारी के निर्माण के लिए अनुरोध किया गया था। बैठक में बताया गया कि मुख्य मनसा देवी मंदिर और पटियाला मंदिर को जोडऩे वाले नए कॉरिडोर का निर्माण कार्य 1.20 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से इस साल अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा। इसी तरह, लक्ष्मी भवन परिसर के पास वृद्धाश्रम के निर्माण का कार्य 10.49 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से सितंबर, 2021 तक पूरा हो जाएगा। इस 5 मंजिला भवन में 52 व्यक्तियों के रहने की क्षमता होगी।

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

ARVIND-SHARMA-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर राठी दंपति ने रक्तदाताओं का कराया जीवन बीमा

झज्जर (सुमित कुमार)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के मौके पर बहादुरगढ में रक्तदान शिविर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!