Home / International / बॉयफ्रेंड के साथ रहने गई 22 वर्षीय युवती, 3 महीने बाद वापिस लौटी तो किचन की हालत देख रह गई हैरान

बॉयफ्रेंड के साथ रहने गई 22 वर्षीय युवती, 3 महीने बाद वापिस लौटी तो किचन की हालत देख रह गई हैरान

कोरोना महामारी के चलते पूरी दुनिया में लॉकडाउन लगाया गया ताकि इससे संक्रमण की रोकथाम की जा सके। जिसके चलते कई लोग अपने शहरी घर को छोड़कर पुराने घर चले गए। गौरतलब है कि ऐसा ही फ्रांस की एक युवती अपने फ्लैट को लॉकडाउन में बंद करके चली गई।

Advertisements

potato 01
जब वह 3 महीने के बाद घर लौटी तो वह किचन की हालत देखकर हैरान रह गई। उसने देखा कि उसके किचन में गुलाबी रंग की लकीरें दिख रही थीं जो किसी ‘एलियन ट्री’ की तरह नजर आ रही थीं। उसे देखते ही वह बुरी तरह डर गई, जिसके बाद उसने दोबारा उन पेड़ों की जांच की तो उन्होंने पाया कि ये कोई एलियन ट्री नहीं बल्कि आलू के पेड़ थे।

potato 02

गौरतलब है कि युवती का नाम डोना परी है, जिसकी उम्र 22 साल है। उसने ट्विटर पर किचन में उगे पेड़ों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की हैं। दरअसल, डोना ने मार्च में लॉकडाउन से पहले एक सुपरमार्केट से आलू खरीदकर घर में रख दिए थे। उसके बाद लॉकडाउन की घोषणा हुई जिसके बाद डोना ने अपने बॉयफ्रेंड के साथ सेल्फ आइसोलेशन में रहने का फैसला किया। डोना ने बताया कि वह अपने फ्लैट में जरूरी सामान खरीद कर रख गई थी। उसने रसोई के शेल्फ पर आलू की बोरी की ज्यादा परवाह नहीं की।

potato 03

हालांकि, जब वह तीन महीने के बाद घर लौटी, तो उसके फ्लैट की हालत बिलकुल बदली हुई थी। उसका कहना है कि जैसे ही मैंने सामने का दरवाजा खोला, मैंने रसोई के पीछे एक अजीब आकार देखा। यह एक असाधारण दृश्य था। उन अंकुरित आलुओं ने फर्नीचर के जोड़ों को भी तोड़ दिया था।

डोना ने इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी पोस्ट कीं, जिसमें उन्होंने लिखा कि अगली बार जब आप महीनों के लिए अपना घर छोड़ दें, तो घर पर आलू न छोड़ें.’ डोना ने पोस्ट में लिखा कि जब पहली बार उसने इन्हें देखा तो एक बार के लिए उसे हार्ट अटैक ही आ गया था।

 

Advertisements
whatsapp-hindxpress
Advertisements

Check Also

ramnath

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद द्वारा पारित तीनों कृषि विधेयकों को दी मंजूरी

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कृषि बिल को मंजूरी दे दी है। इस बिल को राष्ट्रपति …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!