Home CHANDIGARH महिला आईएएस को मंत्री के आपत्तिजनक संदेश भेजने का मामला अभी पंजाब...

महिला आईएएस को मंत्री के आपत्तिजनक संदेश भेजने का मामला अभी पंजाब कांग्रेस तक नहीं पहुंचा

5
0

चंडीगढ,26अक्टूबर। पंजाब की महिला आईएएस अधिकारी को एक केबिनेट मंत्री द्वारा आपत्तिजनक संदेश भेजे जाने का मामला अभी पंजाब प्रदेश कांग्रेस तक नहीं पहुंचा है। पंजाब कांग्रेस की प्रभारी आशा कुमारी और पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड ने शुक्रवार को यहां कहा कि यह मामला अभी पार्टी के स्तर पर नहीं आया है। पार्टी के स्तर तक मामला आने पर इसे देखा जाएगा और यदि कुछ गलत पाया गया तो निश्चित ही कार्रवाई की जाएगी।

पंजाब कांग्रेस प्रभारी आशा कुमारी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि अभी यह मामला मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह के स्तर पर ही है। मुख्यमंत्री और सम्बन्धित मंत्री भी अभी विदेश यात्रा पर है। उन्होंने कहा कि अभी कहा जा रहा है कि मंत्री ने महिला अधिकारी को अनुपयुक्त संदेश भेजे है। अनुपयाुक्त का मतलब जरूरी नहीं गलत ही हो। अनुपयुक्त शब्द का कुछ अलग ही अर्थ निकाला जा रहा है। ऐसा भी दिखाई दे रहा है कि महिला अधिकारी संतुष्ट है तो कोई गलत बात नहीं है। इस मामले में विपक्ष की बात नहीं मानी जा सकती है। अकाली दल टूट रहा है और उसके सांसद पार्टी छोड रहे है। लेकिन कुछ गलत पाया गया तो कार्रवाई जरूर की जायेगी। मुख्यमंत्री अनुभवी है और वे सही फैसला करेंगे।

पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड ने कहा कि अभी पार्टी के सामने इस तरह का मुद््दा नहीं आया है। अभी मुख्यमंत्री और सम्बन्धित मंत्री भी विदेश में है। कांग्रेस महिला सम्मान के प्रति संवेदनशील है। अगर कुछ गलत पाया गया तो कार्रवाई की जायेगी। वैसे इस मामले में आरोप लगाने वाली अधिकारी सामने नहीं आई है। जाखड ने केन्द्रीय राज्य मंत्री विजय सांपला को सही जानकारी नहीं है। राज्य सरकार ने कोई नई गाडी नहीं खरीदी है। पिछली अकाली-भाजपा सरकार तो खजाना खाली छोडकर गई थी। लेकिन मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने इसके बावजूद किसानों के कर्ज माफ करने का सिलसिला शुरू किया और सामाजिक सुरक्षा पेंशन 750 रूपए मासिक तक बढाई।