Home CHANDIGARH सिखों के मुद्दों पर आंदोलन कर रहे सुखबीर बादल को नवजोत सिद्धू...

सिखों के मुद्दों पर आंदोलन कर रहे सुखबीर बादल को नवजोत सिद्धू की चुनौती

14
0

चंडीगढ़ ,5नवम्बर। पंजाब में सिख मुद्दों को लेकर आंदोलन कर रहे अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल को सोमवार को प्रदेश की कांग्रेस सरकार में शहरी निकाय मंत्री नवजोत सिद्धू ने चुनौती देते हुए कहा कि हिम्मत है तो सुखबीर गुरूग्रंथ साहिब के अपमान की घटनाओं के विरोध में बरगाड़ी में धरना दें। यदि सुखबीर वहां धरना देते है तो वे स्वयं भी शामिल होंगे।

सिद्धू ने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सुखबीर सिख मुद्दों को ही उठा रहे हैं तो सिखों के लिए गुरूग्रंथ साहिब के अपमान से बडा कोई मुद्दा नहीं है। सुखवीर इस मुद्दे पर धरना दे। वे गुरुग्रंथ साहिब के अपमान के पीछे के कारण भी बताएं। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख की फिल्म एमएसजी 100 करोड रूपए कमा गई और डेरा प्रमुख को माफी भी मिल गई तो फिर सिख कौम का गद्दार कौन है?

उन्होंने कहा कि वर्ष 1984 के हिंसा पीडित सिखों को न्याय की बात तब क्यों नहीं की गई जबकि अकाली दल ने केन्द्र सरकार को बिना शर्त समर्थन दिया था। जब नामधारी पंथ की माता चांद कौर की हत्या की गई और पुलिस इंस्पेक्टर को गोली मारी गई तब क्यों नहीं धरना दिया गया? सिद्धू ने कहा कि टकसाली अकाली नेता रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा और सुखदेव सिंह ढींढसा के सामने सुखबीर बहुत बौना है। उन्होंने कहा कि इन टकसाली नेताओं को अकाली दल से कोई दिक्कत नहीं है। उन्हें जीजा-साला प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी से परेशानी है। लेकिन जीजा-साला अब दफन हो चुके हैं। जीजा साला से सिद्धू का मतलब सुखबीर बादल ओर उनके साले विक्रम मजीठिया से था।