Home BREAKING महाराष्ट् के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस ने भी भाजपा नेतृत्व को गुरूद्वारा एक्ट...

महाराष्ट् के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस ने भी भाजपा नेतृत्व को गुरूद्वारा एक्ट में संशोधन वापस लेने का भरोसा दिया

10
0

चंडीगढ,3फरवरी। पंजाब में अकाली दल और भाजपा गठबंधन के लिए खतरा बने महाराष्ट् के गुरूद्वारा एक्ट में संशोधन को हमेशा के लिए वापस लेने के भाजपा के राष्ट्ीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा अकाली दल अध्यक्ष सुखवीर बादल को भरोसा दिए जाने के बाद महाराष्ट्् के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस ने भी भाजपा नेतृत्व को शनिवार देर रात भरोसा दिलाया कि राज्य सरकार इस संशोधन को हमेशा के लिए वापस ले रही है।

फडनवीस ने महाराष्ट् सरकार के इस फैसले से वरिष्ठ सिख नेता और भाजपा के राष्ट्ीय सचिव आरपी सिंह को अवगत कराया। उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्स रकार नांदेड स्थित तख्त हजूर साहिब गुरूद्वारा एक्ट की धारा 11 में संशोधन कर गुरूद्वारा बोर्ड में प्रतिनिधित्व बढा रही थी। इस पर अकाली दल ने कडी आपत्ति दर्ज करवाते हुए भाजपा के साथ गठबंधन समाप्त करने की चेतावनी दी थी। अकाली दल का आरोप था कि गुरूद्वारा एक्ट में संशोधन सिख धार्मिक मामलों में दखल है। यह दखल राष्ट्ीय स्वयंसेवक संघ द्वारा अपने संगठन राष्ट्ीय सिख संगत के जरिए करवाया जा रहा है। अकाली दल की आपत्ति के बाद भाजपा के राष्ट््ीय अध्यक्ष अमित शाह ने नई दिल्ली में अकाली दल अध्यक्ष सुखवीर बादल को नांदेड साहिब गुरूद्वारा एक्ट में संशोधन न करने का भरोसा दिया था।

इसके बाद महाराष्ट् के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस ने भी भाजपा नेतृत्व को गुरूद्वारा एक्ट में संशोधन वापस लेने का भरोसा दिया है। फडनवीस इससे पहले भी गुरूद्वारा एक्ट में संशोधन न करने की घोषणा कर चुके थे लेकिन कुछ अकाली दल नेता इसके बाद भी इस बारे में बयान जारी कर रही थे। इस पर आरपी सिंह ने कहा है कि फडनवीस के इस स्पष्ट आश्वासन के बाद मामला समाप्त किया जाना चाहिए। आरपी सिंह ने अपने ट्वीट में बताया कि फडनवीस ने उन्हें कहा है कि वे शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी और केन्द्रीय मंत्री हरशिमरत कौर बादल व सुखवीर बादल का अत्यधिक सम्मान करते है।