Home CHANDIGARH इनेलो नेताओं की राहें अलग करने के संकेत, प्रदेश कार्यालय बदलने की...

इनेलो नेताओं की राहें अलग करने के संकेत, प्रदेश कार्यालय बदलने की तैयारी

30
0

चंडीगढ,11नवम्बर। हरियाणा के मुख्य विपक्षी दल इंडियन नेशनल लोकदल के नेताओं की राहें अलग करने के संकेत मिल रहे है। चंडीगढ स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय को बदलने की तैयारी की जा रही है। अभी तक प्रदेश कार्यालय हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला की मां डबवाली से विधायक नैना चौटाला को आवंटित फ़्लैट नम्बर 17 में स्थापित था लेकिन अब इसे फ़्लैट नम्बर 109 में ले जाने की तैयारी की जा रही है। फ़्लैट नम्बर 109 लोहारू से विधायक ओमप्रकाश को आवंटित है।

फ़्लैट नम्बर 17 से इनेलो प्रदेश कार्यालय को फ़्लैट नम्बर 109ं ले जाने को लेकर रविवार को कुछ गतिविधियां दर्ज की गई। फ़्लैट नम्बर 17 से कुछ तस्वीरें,बोर्ड और फाइलें फ़्लैट नम्बर 109 ले जाई गइंर्। इनेलों में राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के दोंनों पुत्र अभय सिंह चौटाला व अजय सिंह चौटाला के दो खेमों में बंट जाने के साथ ही दोनों की राहें अलग होती दिखाई दे रही है। दोनों ने अपने अलग-अलग खेमे तब बनाए जबकि ओमप्रकाश चौटाला के छोटे पुत्र अभय सिंह चौटाला और बडे पुत्र अजय सिंह चौटाला के दो पुत्र सांसद दुंष्यंत चौटाला एवं छात्र संगठन इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला के बीच संगठन में वर्चस्व की जंग शुरू हुई। पहले तो इस जंग को नकारा जाता रहा लेकिन पिछले सात अक्टूबर को सोनीपत जिले के गोहाना में आयोजित रैली में युवाओं के एक समूह द्वारा अभय सिंह चौटाला के संबोधन के दौरान हूटिंग की गई। इस मंच पर स्वयं ओमप्रकाश चौटाला भी मौजूद थे। ओमप्रकाश चौटाला ने सारी हालत समझते हुए मंच से चेतावनी दी थी कि इस तरह की गतिविधि करने वाले अपना रवैया बदलें वरना पार्टी से बाहर कर दिए जायेंगे। जल्दी ही हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला को पार्टी से निलबित करने के बाद निकाल दिया गया।

इस घटनाक्रम के बाद अजय सिंह चौटाला पेरोल पर बाहर है। वे अपने पुत्रों के समर्थन में खडे है। उन्होंने हिसार से जिलेवार कार्यकर्ताओं की सभाओं को संबोधित करने का सिलसिला शुरू किया है। इस अभियान के तहत रविवार को अजय सिंह ने रेवाडी में कार्यकर्ताओं की सभा को संबोधित किया। दुष्यंत चौटाला ने भी रविवार को दिल्ली में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। अजय सिंह चौटाला लगातार कह रहे हैं कि इनेलो किसी की बपौती नहीं है। यह सभी की पार्टी है। उन्होंने जिलेवार सभाओं को संबोधित करने के बाद 17नवमबर को जींद में इनेलो के प्रदेश सेक्रेटरी जनरल की हैसियत से प्रदेश कार्यकारिणी बैठक आयोजित कर माजूदा हालत पर कोई बडा फैसला कर लेने का ऐलान किया है। अजय सिंह चौटाला की विधायक पत्नी नैना चौटाला भी हरी चुनरी चौपाल के नाम से महिलाओं की सभाओं को संबोधित कर रही है। वे जहां प्रदेश की भाजपा सरकार पर हमला कर रही हैं वहीं यह भी कह रही हैं कि इनेलो में इस समय सभी कुछ ठीक नहीं चल रहा है।