Home BREAKING लोकसभा चुनावों में फिर से मोदी जी पूर्ण बहुमत के साथ बनेंगे...

लोकसभा चुनावों में फिर से मोदी जी पूर्ण बहुमत के साथ बनेंगे प्रधानमंत्री – कर्णदेव काम्बोज

14
0

इंद्री (मैनपाल कश्यप) । खाद्य,नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री कर्णदेव काम्बोज ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनावों में एक -एक बूथ जीतकर फिर से मोदी जी पूर्ण बहुमत के साथ प्रधानमंत्री बनेंगे। बीते साढ़े चार वर्षो के कार्यकाल में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में देश ने अभूतपूर्व उन्नति की है। मंत्री काम्बोज वीरवार को इंद्री के दीवान पैलेस में कार्यकर्ताओं के साथ प्रधानमंत्री के मन की बात सुनने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि दो मार्च को इंद्री हलके में बाइक रैली निकाली जाएगी जिसमें हलके के कई हजार लोग शामिल होंगे।

मंत्री कर्णदेव काम्बोज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने अपने मन की बात कार्यक्रम के दौरान कार्यकर्ताओं को आगामी लोकसभा चुनावों में मजबूती के साथ काम करने के टिप्स दिये और सभी सरकारी योजनाओं को आम जनता तक पहुंचाने के निर्देश दिए है। इस दौरान पूरे देश से कार्यकर्ताओं ने भी प्रधानमंत्री ने अपने सवाल पूछे। हलके की जनता व कार्यकर्ताओं ने इंद्री, गढीबीरबल, घीड़ में एकत्रित होकर प्रधानमंत्री के मन की बात सुनी। उन्होंने कहा कि पीएम जो भी बात करते है दिल से करते है और उसे पूरा करते है। उन्होंने बताया कि 14 फरवरी को पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर कायराना तरीके से हमला कर सैनिकों को शहीद कर दिया था जिसके पश्चात प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान से बदला लेने की घोषणा की थी। दो दिन पूर्व वायुसेना के जांबाज पायलटो ने अदम्य साहस का परिचय देते हुए पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को ध्वस्त किया और करीब 350 आतंकियों को ढेर किया था। इस कार्रवाई से पूरा देश फर्क महसूस कर रहा है तथा चहुंओर सेना व सरकार की तारीफ हो रही है।

मन्त्री कर्ण देव काम्बोज ने पत्रकारों द्वारा गेस्ट टीचर्स के संबंध में पूछे गए सवाल के बारे में कहा कि सरकार ने बिल पास कर दिया है कि इनकी सेवाएं रिटायरमेंट तक जारी रहेंगी। उन्होंने बताया कि इंद्री हलके का एक बच्चा गेस्ट टीचर्स के लिए भगवान का रूप बनकर आया जिसने मुझे एक पत्र दिया जिसमें लिखा था कि शिक्षा मंत्री अंकल आपने गेस्ट टीचर्स को पहली कलम से पक्का करने का वायदा किया था। इसे आप कब पूरा करेंगे। मंत्रीमंडल की बैठक में यह पत्र मैंने शिक्षा मंत्री रामबिलाश शर्मा को दिखाया जिसके पश्चात इस पर चर्चा शुरू हुई और सहमति बनी कि 58 वर्ष की आयु तक गेस्ट टीचर्स को हटाया नही जाएगा।