Home HARYANA हरियाणा : राज्यमंत्री कृष्ण बेदी के खिलाफ वकीलों ने खोला मोर्चा

हरियाणा : राज्यमंत्री कृष्ण बेदी के खिलाफ वकीलों ने खोला मोर्चा

19
0

फतेहाबाद (जितेंदर मोंगा)। वकीलों पर तीखी टिप्पणी करने के बाद हरियाणा के राज्यमंत्री कृष्ण बेदी के खिलाफ वकीलों ने खुलकर मोर्चा खोल दिया है। वकीलों ने राज्यमंत्री कृष्ण बेदी के खिलाफ ना केवल बार काउंसिल की बैठक बुलाकर निंदा प्रस्ताव पारित किया है बल्कि मंत्री को कानूनी नोटिस भी भेजा है। इसके अलावा वकीलों की तरफ से मंत्री कृष्ण बेदी के खिलाफ मानहानि का दावा भी ठोकने की तैयारी कर ली गई है।

बता दें कि राज्यमंत्री कृष्ण बेदी ने शनिवार को फतेहाबाद में आयोजित कष्ट निवारण समिति की बैठक में एडवोकेट सुशील बिश्नोई की ओर से रखी गई जन शिकायत पर सुनवाई करते हुए वकीलों के बारे में टिप्पणी करते हुए कहा था कि ”वकीलों से देश की सारी जनता दुखी है”। मंत्री की इस टिप्पणी का मौके पर एडवोकेट सुशील बिश्नोई ने विरोध जताया लेकिन मंत्री ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। इसके बाद आज बार काउंसिल ऑफ फतेहाबाद की बैठक कोर्ट परिसर स्थित बार रूम में आयोजित हुई। बैठक में बार काउंसिल के अध्यक्ष सहित तमाम पदाधिकारी और लगभग सभी वकील मौजूद रहे।

बैठक में बार काउंसिल की ओर से मंत्री के खिलाफ पारित प्रस्ताव के बारे में जानकारी देते हुए बार काउंसिल फतेहाबाद के सचिव एडवोकेट विनय शर्मा ने बताया कि मंत्री कृष्ण बेदी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया गया है। एडवोकेट विनय शर्मा ने कहा कि कष्ट निवारण समिति की बैठक में मंत्री कृष्ण बेदी ने वकीलों के बारे में जो टिप्पणी की है उसको सुनकर लगता है कि मंत्री की भाषा में शालीनता नहीं है। एडवोकेट शर्मा ने कहा कि मंत्री अपने शब्दों की मर्यादा भूल कर बात कर रहे थे। ऐसे में बार काउंसिल फतेहाबाद की तरफ से मंत्री के खिलाफ मानहानि का मुकदमा कोर्ट में दायर किया जाएगा। इसके अलावा फिलहाल मंत्री को कानूनी नोटिस भेजा जा रहा है और बार काउंसिल ऑफ पंजाब एंड हरियाणा और बार काउंसिल ऑफ इंडिया के साथ-साथ सीएम और पीएम को पारित प्रस्ताव की कॉपियां भेजी जा रही हैं। एडवोकेट शर्मा ने कहा कि मंत्री के खिलाफ वकीलों ने विरोध जताया है और मंत्री के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी