Home HARYANA दुष्यंत चौटाला ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पर उठाया सवाल, अधिकारियों से...

दुष्यंत चौटाला ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पर उठाया सवाल, अधिकारियों से मांगी 24 घंटे में रिपोर्ट

10
0

जींद (रोहताश भोला) । जींद में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में सेक्टरों में नगर परिषद द्वारा इंटर लोकिंग ब्लॉक से बनाई जा रही सड़कों पर सांसद दुष्यंत चौटाला और बीजेपी के जींद से नवनिर्वाचित विधायक डॉ. कृष्ण मिढ़ा ने सवाल उठाते हुए सड़कों का लेवल सही नहीं होने पर अधिकारियों को फटकार लगाई। मिढ़ा ने कहा कि शहर में तारकोल की सड़कें बनती थी। नगर परिषद ने इंटर ब्लॉक से सड़कें बनाकर गांवों से भी पिछड़ा बना दिया है, जिनका लेवल भी सही नहीं है। कुछ साल बाद ईंट घिसने से दुर्घटनाएं बढ़ेंगी।

शुक्रवार को लघु सचिवालय के सभागार में सोनीपत से सांसद रमेश कौशिक की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला, विधायक डॉ. कृष्ण मिढ़ा, नरवाना से विधायक परथी सिंह नंबरदार, डीसी आदित्य दहिया व सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। मीटिंग में एमपीलैंड ग्रांट का पैसा खर्च करने समेत कई मुद्दों पर अधिकारियों पर फटकार पड़ी। इनमें सबसे अहम मुद्दा जींद शहर में सेक्टरों में सड़क निर्माण व अमरूत योजना के तहत बरसाती पानी की निकासी के लिए दबाई जा रही पाइप लाइन का मुद्दा रहा। विधायक बनने के बाद पहली बार मीटिंग में पहुंचे डॉ. कृष्ण मिढ़ा के निशाने पर नगर परिषद व पब्लिक हेल्थ रहे।

सांसद दुष्यंत चौटाला ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पर सवाल उठाते हुए अधिकारियों से 24 घंटे में रिपोर्ट मांगी। जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की मीटिंग में पहुंचे कृषि विभाग के अधिकारियों से पिछले साल खरीफ सीजन में हुए नुकसान की जानकारी मांगी गई। कृषि अधिकारियों ने बताया कि खरीफ सीजन में 17753 किसानों की शिकायतें आई थी। जिनमें से 16171 शिकायतों को मंजूर किया गया और करीब 1500 शिकायतें 48 घंटे बाद किसान द्वारा रिपोर्ट करने पर नामंजूर की गई।

दुष्यंत ने सर्वे पर सवाल उठाते हुए अधिकारियों से पूछा कि बीमा कंपनी ने सर्वे के लिए कितने कर्मचारियों को लगाया है। इस पर अधिकारी सही जवाब नहीं दे सके और अनुमान लगाते हुए ब्लॉक वाइज चार कर्मचारी लगाने की बात कही। इस पर दुष्यंत ने कहा कि पूरे जिले में करीब 30 कर्मचारी 16 हजार एकड़ फसल का सर्वे 12 दिन में कैसे कर सकते हैं।

बीजेपी नेताओं ने लगा रखी फैक्ट्री

सांसद दुष्यंत ने सेक्टरों में इंटरलोकिंग ब्लॉक लगाने के मामले में बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी नेता की इंटरलोकिंग ब्लॉक बनाने की फैक्ट्री है। इसलिए शहर में ब्लॉक लगाई जा रही है। ये मीटिंग में खुद बीजेपी के ही लोग कह रहे हैं। ईमानदारी का ढोल पीट रही बीजेपी का चेहरा इससे स्पष्ट हो गया है। अब तो ये देखने की बात है कि कितने बीजेपी नेताओं ने फैक्ट्रियां खोली हुई हैं।