Home HARYANA दीपावली पर्व के चलते बाजारों में बढ़ी रौनक – देखें वीडियो

दीपावली पर्व के चलते बाजारों में बढ़ी रौनक – देखें वीडियो

39
0

रेवाड़ी (राजेश शर्मा) । कार्तिक मास की अमावस्या को मनाये जाने वाले हिन्दुओ के प्रसिद्ध त्यौहार दीपावली की पूरे देश में धूम है। पांच दिनों तक चलने वाले इस दीपोत्सव में बाज़ारो में खूब रौनक छायी हुई है। दिवाली के तीसरे दिन रेवाड़ी बावल के बाजार गुलजार दिखे त्यौहार की रौनक और बढ़ गयी है बाजार रंग बिरंगी मिठाईओं, देवी देवताओं के कैलेंडर्स और अन्य साज़ो सामान से सजे हुए है लोग भी जमकर सामान की खरीददारी कर रहे है। सुरक्षा और जाम की स्थिति से निपटने के लिए पुलिस प्रशासन की तरफ से भी पुख्ता प्रबंध किये गए है हालाँकि पटाखों और आतिशबाज़ी के साथ चरम पर पहुँचने वाली दिवाली के धमाके पर इस बार सुप्रीम कोर्ट की सख्ती नज़र आ रही है। सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के कारण इस बार पटाखों के बिना दिवाली की चमक थोड़ी फीकी नज़र आ रही है।

माना जाता है कि दीपावली के दिन अयोध्या के राजा राम अपने चौदह वर्ष के वनवास के पश्चात लौटे थे। अयोध्यावासियों का ह्रदय अपने परम प्रिय राजा के आगमन से प्रफुल्लित हो उठा था। श्री राम के स्वागत में अयोध्यावासियों ने घी के दीपक जलाए। कार्तिक मास की सघन काली अमावस्या की वह रात्रि दीयों की रोशनी से जगमगा उठी। तब से आज तक भारतीय प्रति वर्ष यह प्रकाश-पर्व हर्ष व उल्लास से मनाते हैं। यह पर्व अधिकतर ग्रिगेरियन कैलन्डर के अनुसार अक्टूबर या नवंबर महीने में पड़ता है। दीपावली दीपों का त्योहार है।

विश्वास है कि सत्य की सदा जीत होती है झूठ का नाश होता है। दीवाली यही चरितार्थ करती है- असतो माऽ सद्गमय, तमसो माऽ ज्योतिर्गमय। दीपावली स्वच्छता व प्रकाश का पर्व है। कई सप्ताह पूर्व ही दीपावली की तैयारियाँ आरंभ हो जाती हैं। लोग अपने घरों, दुकानों आदि की सफाई का कार्य आरंभ कर देते हैं। घरों में मरम्मत, रंग-रोगन, सफ़ेदी आदि का कार्य होने लगता है। लोग दुकानों को भी साफ़ सुथरा कर सजाते हैं। बाज़ारों में गलियों को भी सुनहरी झंडियों से सजाया जाता है। दीपावली से पहले ही घर-मोहल्ले, बाज़ार सब साफ-सुथरे व सजे-धजे नज़र आते हैं।

#HappyDiwali 2018 #DiwaliGreetings #HindxpressTv