Home BREAKING भिवानी में “अभिभावक सम्मेलन” का आयोजक कर्ता रोया फूटफूटकर (video)

भिवानी में “अभिभावक सम्मेलन” का आयोजक कर्ता रोया फूटफूटकर (video)

57
0

भिवानी, 30 जनवरी(अमन शर्मा); दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के न आने की सूचना मिलने पर भिवानी अनाज मंडी में कार्यक्रम के आयोजककर्ता दयानंद गर्ग आयोजन स्थल पर ही धरने पर बैठकर रोने लगे। दयानंद गर्ग को जब यह मालूम हुआ कि कार्यक्रम में कुर्सियां खाली होने की वजह से अरविन्द केजरीवाल यहाँ नहीं आ रहे तो वह आयोजन स्थल पर ही धरना देकर बैठ गए और जोर जोर से रोने लगे। फूटफूटकर रोते हुए उन्होंने बताया कि दिल्ली में सीएम की तरफ से उन्हें समय मिला था लेकिन इस कार्यक्रम में भीड़ कम होने के कारण दिल्ली के सीएम ने इस कार्यक्रम का दौरा रद्द कर दिया।

बता दें, दयानंद गर्ग और उनके सहयोगियों ने शहर की नई अनाज मंडी में बुधवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल काे अभिभावक सम्मेलन में मुख्यातिथि के रूप में आमंत्रित किया था। इसके लिए आयोजकों की ओर से दोपहर साढे 12 बजे का समय निर्धारित किया गया था। सुबह करीब 11 बजे से ही लोगों का आयोजन स्थल पर आगमन शुरू हो गया था। कार्यक्रम के आयोजक दयानंद गर्ग यहां आने वाले लोगों का स्वागत करने में लगे हुए थे। लेकिन उन्हें क्या पता था कि 15 दिनों से दिल्ली के सीएम के स्वागत की जिन तैयारियों में वह जुटे हैं उन पर इस तरह से पानी फिर जाएगा।

शिक्षा ,स्वास्थ्य और सहयोग संगठन की तरफ से आयोजित इस सम्मेलन के संयोजक दयानंद गर्ग ने फूटफूटकर रट हुए कहा कि दिल्ली में सीएम की तरफ से उन्हें समय मिला था और उसके बाद उन्होंने कार्यक्रम को मजबूत करने के लिए अपनी पूरी मेहनत की। लेकिन इस कार्यक्रम में भीड़ कम होने के कारण सीएम ने हमारे कार्यक्रम का दौरा रद्द कर दिया ,जबकि उनको समय दिया हुआ था। उन्होंने बताया कि इस आयोजन को सफल बनाने और सीएम के स्वागत में उन्होंने ब्याज तक के रूपए लिए हैं। लेकिन सीएम के न पहंचने से उनके सम्मान को तो ठेंस पहुंची ही साथ में अभिभावकों को भी निरास होना पड़ा है। कहा की भीड़ यदि कम है तो नहीं आना चाहिए ,यह कोई इंसानियत नहीं है ,हमने तो दिल्ली के सीएम का शिक्षा,स्वास्थ्य कार्यो अच्छा देखते हुए उनको आमंत्रित किया था ,किसी राजनितिक कार्यक्रम में नहीं। कहा कि वे जबतक अनशन से नहीं उठेंगे जबतक दिल्ली का सीएम यहाँ नहीं आएगा ,कहा कि उनके साथ देखा हुवा है।

दयानन्द के सहयोगी रमेश ने बताया कि यदि सीएम को नहीं आना था तो वे पहले ही मना कर देते।ताकि उन्हें निरास तो नहीं होना पड़ता। उन्होंने कहा कि इस कार्यकम में भीड़ जुटाने के लिए आप पार्टी के कार्यकर्ता तक गाड़ियों के पैसे तक लेकर गए हैं ,हमने इसे सफल बनाने के लिए पूरा प्रयास किया है। जिस पर लाखो रूपी खर्च किया गया ,यदि नहीं आना था तो वे समय नहीं देते।