Home CHANDIGARH पंजाब में आम आदमी पार्टी के केजरीवाल गुट ने पांच लोकसभा प्रत्याशी...

पंजाब में आम आदमी पार्टी के केजरीवाल गुट ने पांच लोकसभा प्रत्याशी घोषित किए

10
0

चंडीगढ,30अक्टूबर। पंजाब में आम आदमी पार्टी के केजरीवाल गुट ने मंगलवार को लोकसभा चुनाव के लिए पांच प्रत्याशियों की घोषणा कर दी। पांच प्रत्याशियों में पार्टी के प्रदेश संयोजक और संगरूर से सांसद भगवन्त मान को फिर संगरूर से ही चुनाव लडाने का ऐलान किया गया है।

पार्टी की राजनीतिक मामलो की समिति के चेयरमंेंन ने यहां पत्रकारों के सामने पांच प्रत्याशियों की सूची जारी की। सूची में फरीदकोट से मौजूदा पार्टी सांसद साधु सिंह को फिर इसी सीट से चुनाव लडाने का ऐलान किया गया है। इनके अलावा डाॅ रवजोत सिंह को होशियारपुर,कुलदीप सिंह धारीवाल को अमृृतसर और नरिंदर सिंह शेरगिल को आनन्दपुर साहिब से प्रत्याशी घोषित किया गया है। उन्होंने कहा कि पार्टी की कोर कमेटी की बैठक जल्दी ही आयोजित कर शेष प्रत्याशी भी घोषित किए जायेंगे।

इस मौके पर तलवण्डी साबो से विधायक और पार्टी की मुख्य प्रवक्ता बलजिंदर कौर ने कहा कि पार्टी आने वाला लोकसभा चुनाव दिल्ली की अरविन्द केजरीवाल सरकार के माॅडल पर लडेगी। केजरीवाल सरकार ने खासकर शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतरीन काम किया है। इस काम को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है। उन्होंने कहा कि पंजाब के लोगों ने मेहनत कर चार साल में ही पार्टी को मुख्य विपक्षी दल की स्थिति में पहुंचा दिया। लोकसभा में चार सीटें हासिल कीं। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने जो वायदे किए थे वो मोदी सरकार ने पूरे नहीं किए। किसानों को स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के अनुसार समर्थन मूल्य नहीं मिला। पेट्रोल ,डीजल और बिजली के दाम आसमान छू रहे है। हर वर्ग परेशान है। मोदी सरकार घोटालों की सरकार साबित हुई है। नोटबंदी और राफल विमान सौदे में बडे घोटाले हुए है।

उन्होंने कहा कि पंजाब की कैप्टेन अमरिंदर सरकार ने भी इसी तरह प्रदेश की जनता के साथ वायदाखिलाफी की है। न तो हर घर नौकरी दी गई और न ही किसानों का समूचा कर्ज माफ किया गया। कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर सरकार बुरी तरह नाकाम रही। उल्लेखनीय है कि पंजाब में आम आदमी पार्टी दो गुटों में बंटी हुई है। केजरीवाल समर्थक गुट के अलावा नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाए गए सुखपाल खैहरा के गुट में आठ विधायक है। सुखपाल खैहरा गुट ने दोनों गुटों को एक करने के प्रसताव पर अपने भटिंडा सम्मेलन के प्रस्ताव स्वीकार करने के लिए एक नवम्बर तक का अल्टीमेटम दिया था। एकता प्रयासों के बीच ही केजरीवाल गुट ने पांच प्रत्याशी घोषित कर दिए।