Home CHANDIGARH हरियाणा में बहुकोणीय मुकाबलों में युवाओं के समर्थन से चुनावी सफलता की...

हरियाणा में बहुकोणीय मुकाबलों में युवाओं के समर्थन से चुनावी सफलता की उम्मीद भी जताई

5
0

चंडीगढ,4मार्च। हरियाणा की हिसार सीट से लोकसभा सदस्य दुष्यंत चौटाला ने सोमवार को यहां कहा कि जननायक जनता पार्टी के गठन के बाद भी वे पुनःलोकसभा में जाने के इच्छुक है। लेकिन यदि पार्टी उन्हें कोई और जिम्मेदारी सौपती है तो वे उसे भी स्वीकार करेंगे।

हरियाणा की राजनीति के बहुध्रुवीय रूप लेने से आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनावों के बहुकोणीय होने के हालात में नई गठित पार्टी जननायक
जनता पार्टी की सफलता की संभावनाओं के सवाल पर दुष्यंत ने कहा कि पार्टी जीतेगी या महत्वपूर्ण स्थान हासिल करेगी। इसके पक्ष में उन्होंने बताया
कि प्रदेश के एक करोड सत्तर लाख मतदाताओं में 93 लाख मतदाता 45 वर्ष से नीचे की आयु के हैं और ये मतदाता बदलाव का साथ देंगे। इसके साथ ही महिला मतदाताओं का समर्थन भी पार्टी को मिलने की उम्मीद है। कुल मतदाताओं में महिला मतदाता भी करीब पचास फीसदी है।

जननायक जनता पार्टी के विस्तार को लेकर दुष्यंत ने कहा कि पार्टी एक मार्च को चुनाव आयोग में पंजीकृत की गई है और जल्दी ही पार्टी की पसंद के दस चुनाव चिन्हों में से कोई एक पार्टी को आवंटित किया जाएगा। पार्टी को दिल्ली व राजस्थान में खडा करने की तैयारी की जा रही है।

अपनी पूर्व पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल को लेकर दुष्यंत ने कहा कि हमने वो पार्टी छोडी नहीं थी बल्कि हमें यह सोचकर निकाला गया था कि हम गिडगिडायेंगे। इसके बाद जब हमने जननायक जनता पार्टी का गठन किया तो उसे बच्चों की पार्टी बताया गया। लेकिन पार्टी ने हाल के जींद विधानसभा उपचुनाव में 38 हजार वोट लेकर दूसरा स्थान हासिल किया। उन्होंने कहा कि जींद विधानसभा उपचुनाव में आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल ने समर्थन दिया था। इसके लिए उनका आभार व्यक्त करते है। लेकिन अभी तक जननायक जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन नहीं किया गया है। गठबंधन के लिए राष्ट्ीय स्तर पर तीन सदस्यों की कमेटी बनी हुई है और वही कोई फैसला करेगी। उन्होंने कहा कि पहले उनके भाजपा से मिले होने और इसके बाद कांग्रेस का एजेंट होने के आरोप लगाए गए। बाद में कहा गया कि कुछ लोगों ने बरगलाया है। हम तो कांग्रेस और भाजपा दोनों के साथ नहीं है। हमारी पार्टी भी बच्चों की पार्टी नहीं है। परिपक्व और सक्रिय लोग हमारे साथ है।

इंडियन नेशनल लोकदल के चार विधायक व अकाली दल का एक विधायक जननायक जनता पार्टी के साथ होने का दावा दोहराते हुए दुष्यंत ने कहा कि ये विधायक सदन में इंडियन नेशनल लोकदल का समर्थन नहीं करते। इन विधायकों की सदन की सदस्यता के सवाल पर दुष्यंत ने कहा कि जब उन्हें पार्टी से निकाला गया तो लोकसभा के स्पीकर को लिखा गया कि अब इंडियन नेशनल लोकदल संसदीय दल के नेता दुष्यंत चौटाला नहीं बल्कि चरणजीत रोडी है तो अब इन विधायकों के बारे में स्पीकर को क्यों नहीं लिखा गया कि ये इंडियन नेशनल लोकदल के साथ नहीं है।

यहां चंडीगढ प्रेस क्लब में मीट द प्रेस कार्यक्रम में दुष्यंत ने पाकिस्तान से लगती देश की सीमा पर बने हालात को लेकर केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर प्रहार किए। उन्होंने कहा कि दो सप्ताह में 53 शहीद हो गए लेकिन भाजपा पायलट अभिनन्दन की रिहाई का जश्न मनाने में जुटी हुई है। भाजपा को इस राजनीति के बजाय देश की सुरक्षा की रणनीति पर काम करना चाहिए। हरियाणा सरकार द्वारा पंजाब भूमि संरक्षण अधिनियम में संशोधन के सवाल पर दुष्यंत ने कहा कि एक केन्द्रीय व प्रदेश के दो मंत्री इसमें लिप्त है। संशोधन लागू हुआ तो ग्वाल पहाडी इलाके में एक पेड नहीं बचेगा। मुख्यमंत्री ने गुरूग्राम व फरीदाबाद को लूटने की योजना शुरू की है।