Home BREAKING हरियाणा बोर्ड ने जारी किया रद्द की गई परीक्षाओं का शैड्यूल

हरियाणा बोर्ड ने जारी किया रद्द की गई परीक्षाओं का शैड्यूल

18
0

भिवानी (अमन शर्मा) । हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने प्रदेश के 108 परीक्षा केन्द्रों पर रद्द की गई परीक्षाओं के पुन: संचालन का शैड्यूल जारी कर दिया है। ये परीक्षाएं चार व पांच अप्रैल को आयोजित की जाएंगी। चार अप्रैल को बोर्ड की दसवीं क्लास के संस्कृत व सामाजिक विज्ञान विषय की परीक्षाओं को छोउ़कर अन्य सभी विषयों की परीक्षा आयोजित की जाएगी तो इसी दिन बारहवीं की कैमिस्ट्री विषय की परीक्षा भी आयोजित की जाएगी जबकि पांच अप्रैल को दसवीं के संस्कृत व सामाजिक अध्यक्ष विषय की परीक्षा के साथ साथ बारहवीं की रसायन विज्ञान की परीक्षा को छोउ़कर अन्य सभी विषयों की परीक्षा आयेाजित की जाएगी। पूरे प्रदेया में 90 परीक्षा केन्द्रों पर इन परीक्षाओं को संचालन किया जाएगा।

बता दें कि प्रदेश भर में छह मार्च से दसवीं व बारहवीं कक्षाओं की बोर्ड परीक्षाएं शुरू हुई थी। प्रदेया के 108 परीक्षा केन्द्रों पर संचालित परीक्षाओं में भारी नकल व बाहरी हस्तक्षेप देखा गया तो इन केन्द्रों की परीक्षा रद्द कर दी गई थी। रद्द की गई परीक्षाएं अब पुन: संचालित करने का शैड्यूल हरियाणा बोर्ड के द्वारा जारी किया गया है।

शैड्यूल के मुताबिक चार अप्रैल को दसवीं व पांच अप्रैल को बारहवीं कक्षा की रद्द की गई परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा मगर चार अप्रैल को दसवीं की संस्कृत व साम2ाजिक विज्ञान विषय की परीक्षा नहंी ली जाएगी यह परीक्षा पांच को ली जाएगी जबकि दसवीं के अन्य सभी विषयों की परीक्षा चार अप्रैल को ही ली जाएगी। वहंी बारहवीं की रसायन विज्ञान की परीक्षा चार अप्रैल को दसवीं की परीक्षाओं के साथ ली जाएगी जबकि पांच अप्रैल को बारहवीं के अन्य सभी विषयों की परीक्षाओं का संचालन किया जाएगा।

विद्यालय शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ.जगबीर सिंह ने पूरे मामले में तफ्सील से जानकारी देते हुए बताया कि कुल 108 परीक्षा केन्द्रों की परीक्षा रद्द की गई थी जो कि चार व पांच अप्रैल को प्रदेया के जिला मुख्यालयो ंपर आयोजित की जाएंगी। उन्होंने बताया कि दसवंी की परीक्षा बारह जिलों के परीक्षा केन्द्रों की रद्द हुई तो बारहवीं की परीक्षा सात जिलों के केन्द्रों की रद्द की गई। उन्होंने बताया कि दसवीं की रद्द परीक्षाएं चार अप्रैल को तो बारहवंी की रद्द परीक्षाएं पांच अप्रैल को आयेाजित करवाई जाएंगी मगर दसवीं की संस्कृत व सामाजिक विज्ञान की परीक्षा चार की बजाय पांच अप्रैल को संचालित की जाएगी तथा बारहवीं की कैमिस्ट्री यानि रसायन विज्ञान की परीक्षा पांच अप्रैल की बजाय चार अप्रैल को दसवीं की परीक्षाओं के साथ संचालित करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि चार अप्रैल की परीक्षा के लिए प्रदेया में 68 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं जिनमे ंसे 63 केन्द्रो ंपर दसवीं व पांच केन्द्रों पर बारहवीं की परीक्षा का आयोजन होगा तो पांच अप्रैल को बारहवीं के 15 व दसवीं के सात केन्द्रों पर परीक्षाओं का आयोजन होगा। विद्यालय शिक्षा बोर्ड की आधिकारिक वैबसाईट्स पर रद्द की गई परीक्षाओं के नए केन्द्रों का ब्यौरा उपलब्ध करवा दिया गया है तथा स्कूलों में भी संबंधित विद्यार्थी जानकारी ले सकते हैं।

वहीं इस बार रद्द की गई परीक्षाओं के बारे में अगर बात करें तो सबसे अधिक सोनीपत जिले के 32 केन्द्रों की परीक्षा रद्द की गई जिनमें दसवीं के 22 व बारहवीं के दस केन्द्र शामिल हें तो दूसरे नंबर पर रोहतक जिला रहा जिसके बीस केन्द्रों पर दसवीं व बारहवीं की परीक्षाएं रद्द की गई। इनमें 15 केन्द्रो ंपर दसवीं व पांच केन्द्रों पर बारहवीं की परीक्षाएं रद्द की गई। पेपर रद्द होने के मामले में तीसरे नंबर पर बोर्ड मुख्यालय पर स्थित भिवानी जिला रहा जिसके 14 केन्द्रों की दसवीं व चार केन्द्रों की बारहवंी की परीक्षा मिलाकर कुल 17 केन्द्रों की परीक्षा रद्द की गई। वहीं झज्जर जिला भी कम नहंी रहा व इस जिले के दसवीं के आठ व बारवीं के छह केन्द्रों को मिलाकर कुल 14 केन्द्रों की परीक्षा रद्द की गई। बोर्ड अध्यक्ष के मुताबिक इन केन्द्रो ंपर व्यापक इंतजामात पुनर्परीक्षा के लिए किए जा रहे हें। व्यापक पुलिस बलों की तैनाती के लिए जिला पुलिस व प्रशासनिक अमले को लिखा गया है।

बहरहाल रद्द की गई परीक्षाओं के लिए बोर्ड ने पूरी तैयारियों को अमलीजामा पहना दिया है व नकल रहित व अक्ल सहित इन परीक्षाओं के लिए शुरू की गई मुहिम का ही यह असर है कि नकल करने व करवाने वाले केन्द्रों की इतनी तादाद में परीक्षा रद्द की गई। ऐसे में चार व पांच अप्रैल को होने वाली परीक्षाओं में अगर नकल के भरोसे कोई रहेगा तो शायद गलत ही होगा क्योंकि इन केन्द्रों की परीक्षा नकल के चलते रद्द की गई व अब दोबारा नकल की संभावनाएं ना के बराबर ही हैं।