Home HARYANA गुरमीत राम रहीम को बताया निर्दोष,साजिश के तहत फंसाने का आरोप- निशान...

गुरमीत राम रहीम को बताया निर्दोष,साजिश के तहत फंसाने का आरोप- निशान सिंह

13
0

डेरा सच्चा सौदा पहुंचे जननायक जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष निशान सिंह

टोहाना (नवल सिंह),21अप्रेल। हरियाणा के सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम दो साध्वियों के साथ बलात्कार के मामले में बीस साल के कारावास और पत्रकार रामचन्द्र छत्रपति हत्याकांड में आजीवन कारावास भुगत रहे हैं लेकिन प्रदेश में नई गठित की गई जननायक जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह सिरसा लोकसभा सीट से अपनी पार्टी के प्रत्याशी निर्मल सिंह मल्लडी के साथ रविवार को डेरा मुख्यालय पहुंच गए। वहां उन्होंने गुरमीत राम रहीम को निर्दोष बताते हुए कहा कि उन्हें साजिश के तहत फंसाया गया है।

डेरा अनुयायियों का समर्थन हासिल करने के प्रयास में सरदार निशान सिंह ने कहा कि मौजूदा मुख्यमंत्री जो कुछ भी है वे डेरा प्रमुख की कृपा से है। इसके साथ ही उन्होंने 25अगस्त 2017 को पंचकूला स्थित सीबीआई अदालत द्वारा गुरमीत राम रहीम को साध्वी बलात्कार मामलों में दोषी ठहराए जाने के बाद अनुयायियों द्वारा किए गए उपद्रव को रोकने के लिए पुलिस द्वारा बल प्रयोग किए जाने की भी निंदा की। उन्होंने कहा कि मौजूदा भाजपा सरकार ने तीन बार हरियाणा को जलवा दिया।

सिरसा प्रत्याशी के लिए डेरा संगत से मांगा समर्थन

सरदार निशान सिंह डेरा में में आयोजित एक कार्यक्रम में पहुचे थे। उन्होंने कहा कि मै तो खुल्लम खुल्ला कहता हूं कि मैं अपने गुरू के घर आया हूं। मैं गुरू और संगत को नमन करने आया हूं। मैं सिर्फ नमन करने ही नही आया बल्कि अपने प्रत्याशी निर्मल सिंह मल्लडी के साथ झोली फैलाने भी आया हूं। संगत की कृपा से अगर हमारी सरकार बनती है तो कानून के मद्देनजर डेरा के साथ जो कुछ भी गलत हुआ है उसे ठीक करने का काम करेंगे। मुकदमा भी वापस लिया जएगा। डेरा अनुयायियों पर गोली चलाने वालों को कठघरे में लाया जाएगा।

निशान सिंह ने कहा कि गुरू का जेल में होना दुखद बात है लेकिन उन्हें किसी भलाई के लिए भेजा गया है। जेल में सुधार की खबरें भी आ रही है। वहां के जीव भी राम से जुडने का लाभ लेंगे। गुरूओं और पैगम्बरों का सरकार कुछ नहीं बिगाड सकती है। गुरू तो सरकार बनाते है। सरकार बहुत छोटी चीज है। यह खुशी है कि संगत कम नहीं हुई बल्कि बढी है। मुख्यमंत्री ने 25 अगस्त 2017 के घटनाक्रम पर कहा था कि यह क्या कम है कि हम गुरू को अदालत तक लेकर आए है। पर ये सब साजिश के तहत किया गया।