Home BREAKING कष्ट निवारण समिति की बैठक में फौजी ने सुनाई अपनी दास्तां

कष्ट निवारण समिति की बैठक में फौजी ने सुनाई अपनी दास्तां

6
0

कुरुक्षेत्र, 18 फरवरी(भारत साबरी): सारा देश जहां पुलवामा आतंकी हमले में जवानों के शहीद होने से गमगीन है। सुरक्षा बल के जवान एक ओर सरहद पर दुश्मनों से लोहा लेते हैं तो दूसरी तरफ देश के भीतर चरमराई सिस्टम से भी उन्हें जूझना पड़ता है। देश के अंदुरनी सिस्टम से परेशान ऐसे ही एक फौजी की दास्तां कुरुक्षेत्र में कष्ट निवारण समिति की एक बैठक के दौरान सामने आई।

सतबीर सिंह बॉर्डर सिक्योरिटी फ़ोर्स का जवान है जोकि त्रिपुरा में पोस्टेड है। सतबीर का आरोप है कि एक निजी हॉस्पिटल के डॉक्टरों की लापरवाही की वजह से उसकी पत्नी की जान चली गई।

दरअसल सतबीर की पत्नी करिश्मा गर्भवती थी जिसे डिलीवरी के लिए एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया। सतबीर का आरोप है कि उसकी पत्नी की मौत डॉक्टरों की लापरवाही से हुई। इंसाफ के लिए सतबीर इस मामले को कष्ट निवारण समिति में लेकर आया है। लेकिन यहां भी उसे इंसाफ होता नही दिखाई दे रहा।

जब इस मामले में कष्ट निवारण समिति के चेयरमैन और खाद्य आपूर्ति मंत्री कर्ण देव कंबोज से पूछा गया तो उनका कहना था कि मामले की रिपोर्ट मांगी गई है। और जल्द ही इंसाफ किया जाएगा।